Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

बेटी है अनमोल के नारे को सार्थक किया फरेड पंचायत के प्रेम चन्द पुन्नू ने

बड़ी बेटी ने दसवीं कक्षा में लिए 92 प्रतिशत नंबर



  • पालमपुर 22 अगस्त, प्रवीण शर्मा
    बेशक सरकार बेटी है अनमोल जैसे कई नारे दे रही है और इस प्रकार की कई योजनाएं भी चला रखी हैं लेकिन इस नारे को अगर सही अर्थों में सार्थक किया है तो वह है फरेड पंचायत के प्रेम चन्द पुन्नू ने जो कि पेशे से ड्राइवरी करता है तथा उसके पिता भी मेहनत मजदूरी करते हैं। लेकिन पुन्नू का बचपन से ही सपना था कि अपने बच्चों को चाहे वह लड़का हो या लड़की किसी बड़े स्कूल में उसको शिक्षा देनी है।




भाग्य ने उसके घर में एक नहीं तीन तीन लड़कियां दे दी लेकिन पुन्नू अपने उद्देश्य से विचलित नहीं हुआ तथा अपनी छोटी से दिहाड़ी में उसने तीनों बेटियों को माउंट कार्मेल मरंडा में शिक्षा देनी शुरू की तथा उसकी तीनों बेटियां मरंडा में माउंट कार्मेल स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रही हैं। इस दौरान उसकी बड़ी बेटी जो कि दसवीं की परीक्षा में 92 प्रतिशत अंक लेकर उतीर्ण हुई है
। उसी प्रकार उसकी छोटी बेटी सातवीं कक्षा में तथा उस से छोटी बेटी भी माउंट कार्मेल में ही शिक्षा ग्रहण कर रही हैं। पुन्नू का मानना है कि अगर बच्चों को अच्छी शिक्षा दी जाए तो इससे ज्यादा मां बाप के लिए खुशी की बात क्या हो सकती है।



लेकिन पुन्नू का कहना है कि अब जबकि उनकी बड़ी बेटी दसवीं कक्षा मैं अच्छे नंबरों से उत्तीर्ण हो गई है इससे आगे बड़ी कक्षाओं में पढ़ाई उनके लिए चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि इस कोरोना काल के दौरान उनकी कमर इस बीमारी ने तोड़ दी है जिस कारण वह अपनी दिहाड़ी को लेकर चिंतित हैं तथा इस दौरान कोई भी कार्य ना होने के कारण बच्चों के भविष्य की चिंता भी उन्हें सता रही है। उन्होंने कहा कि इस विषय को लेकर वह कई लोगों से मिल भी चुके हैं तथा स्थानीय विधायक एवं विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार से भी बात कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि चाहे कुछ भी करना पड़े बच्चों को अच्छी शिक्षा देना उनका परम धर्म है तथा वह इसे जरूर पूरा करेंगे।

Post a Comment

0 Comments

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष करेंगे प्रदेश भर में तीन चुनावी रैलियां