Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

महामारी के कारण हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री हो रही सबसे ज्यादा प्रभावित इंडस्ट्री कर रही है सरकार से सुझाव की मांग


  • पालमपुर, प्रवीण शर्मा
    करोना की मार से देश की जनता पर एक बार फिर आर्थिक संकट के बादल मंडराने लगे हैं देश में रोजाना 1 लाख से ज्यादा संक्रमण के केस सामने आ रहे हैं लोगों को अपनी जान माल की हानि का डर सताने लगा है ऐसे में विभिन्न इंडस्ट्री अपने अपने आस्तिव को बचाए रखने के प्रयासों में लगी है प्रवासी मजदूर द्वारा घर वापसी पर मजबूर हो गए हैं विभिन्न राज्यों में लगाया जा रहा है सप्ताहिक लॉकडाउन और कर्फ्यू देश के विभिन्न उद्योगों को पिछले वर्ष की तरह दोबारा बंद होने की कगार पर लाकर खड़ा कर रहा है। ऐसी परिस्थितियों में पटरी पर लौट रही होटल इंडस्ट्री को रह रह कर लॉकडाउन और महामारी का डर सता रहा है ।




हिमाचल प्रदेश रहने वाले होटल इंडस्ट्री के अनुभवी शेफ अमित पठानिया ने बताया है कि एक बार फिर हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री कोरोना की शिकार होती दिखाई दे रही है हिमाचल प्रदेश दिल्ली पंजाब सभी होटलइयर बेहद परेशान हैं पिछला साल बड़ी मुश्किलों से निकलने के बाद अब जब सभी लोग वापिस अपने काम पर लौटे थे तो फिर से लॉकडाउन लगाना शुरु हो गया है उनका कहना है पिछले साल तो कट ही गया था लेकिन इस साल बहुत ही मुश्किल हो रही है सरकारों पर ठीक है सवाल करते हुए शेफ अमित पठानिया ने कहा कि क्या करोना सिर्फ होटल या रेस्टोरेंट से ही फैल रहा है जबकि सबसे ज्यादा गाइडलाइन का पालन हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री द्वारा किया जा रहा है उन्होंने लोगों से यह अपील की है की होटल इंडस्ट्री पूरी तरह खोला जाए वरना सभी को खाना खिलाने वाली इंडस्ट्री खुद दाने-दाने को तरस जाएगी शेफ अमित पठानिया ने कहा है सरकार को इंडस्ट्री पर छा रहे इस संकट का जल्द से जल्द कोई ना कोई सुझाव निकालना चाहिए

Post a Comment

0 Comments

बिलासपुर में हादसा, खाई में गिरी कार