Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

हिमाचल में भाजपा हुई चारों खाने चित, जुब्बल में जमानत जप्त

◆जुब्बल कोटखाई से कांग्रेस के रोहित ठाकुर ने निर्दलीय बीजेपी के बागी उम्मीदवार चेतन बरागटा को हराकर जीत दर्ज की है, यहां से बीजेपी उम्मीदवार की जमानत जब्त हो गई

शिमला, प्रवीण शर्मा

हिमाचल की मंडी लोकसभा सीट और अर्की, फतेहपुर जुब्बल कोटखाई विधासभा सीटों पर हुए उपचुनावों के फाइनल नतीजों के आ गए हैं। जिसमें मंडी से कांग्रेस की प्रतिभा सिंह ने बीजेपी के ब्रिगेडियर खुशाल सिंह को करीब 13 हज़ार वोटों से हरा दिया । जुब्बल कोटखाई से कांग्रेस के रोहित ठाकुर ने निर्दलीय बीजेपी के बागी उम्मीदवार चेतन बरागटा को हराकर जीत दर्ज की है। कांग्रेस ने फतेहपुर विधानसभा सीट पर कब्‍जा कर लिया है। इस सीट पर कांग्रेस के भवानी सिंह ने भाजपा के बलदेव ठाकुर को हराया है। अर्की सीट पर भी कांग्रेस ने जीत हासिल की है। यहां से कांग्रेस के संजय अवस्थी ने जीत हासिल की है।


राज्य की सबसे हॉट मंडी सीट के अतिरिक्त जुब्बल कोटखाई फतेहपुर की अर्की और विधानसभा सीट पर भी कांग्रेस ने बीजेपी प्रत्याशियों को कड़ी टक्कर के बाद कांग्रेस ने बड़ी जीत हासिल की है। शिमला में होलीलोज में जश्न का माहौल है वहीं बढ़त मिलने के बाद मंडी लोकसभा सीट पर अपनी शानदार जीत के बाद प्रतिभा सिंह ने इसका श्रेय मंडी की जनता को दिया है। प्रतिभा सिंह ने कहा की जनता बेरोजगारी और महंगाई से त्रस्त है इसीलिए इस दफा जनता ने मंडी समेत सभी सीटों पर कांग्रेस पर अपना भरोसा जताया है। प्रतिभा सिंह ने भावुक होते हुए उनके दिवंगत पति वीरभद्र सिंह के प्रचार में शामिल न होने पर कहा की प्रचार के दौरान उन्हें वीरभद्र सिंह की कमी महसूस हुई। उन्होंने कहा कि सभी सीटों पर कांग्रेस की जीत के बाद  पार्टी के लिए आगामी विधानसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने का मौका है।

जुब्बल कोटखाई से बीजेपी प्रत्याशी नहीं बचा पाई जमानत

जुब्बल कोटखाई से बीजेपी प्रत्याशी नीलम सरैइक को करारी हार नसीब हुई है। वह इस सीट से अपनी जमानत भी नहीं बचा पाई हैं। उन्हें तीन हजार से भी कम वोट मिले हैं। वहीं, आजाद प्रत्याशी चेतन बरागटा ने यहां दमखम दिखाया है और वह दूसरे नंबर पर रहे हैं और करीब 25 हजार वोट उन्हें मिले हैं। पहले नंबर पर कांग्रेस के रोहित ठाकुर रहे हैं और उन्हें तीस हजार के करीब वोट मिले हैं। बता दें कि यहां पर कुल 56 हजार के करीब पोलिंग हुई थी।

सोशल मीडिया में उड़ाया जा रहा उपहास

सोशल मीडिया में भाजपा की हार के पश्चात काफी मजाक उड़ाया जा रहा है और कार्यकर्ताओं की अनदेखी के आरोप लगाए जा रहे हैं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर में हार को स्वीकार करते हुए, हार के कारणों को जानने की बात कही है।

Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी