Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मिट्टी और पत्थरों से भरे जा रहे गड्ढे

◆सड़क की हालात को लेकर उप मंडल मंडल उत्तर के अधिकारियों तक अपनी गुहार लगा चुके 

बड़ूखर(अश्वनी चौधरी)
लोक निर्माण विभाग मंडल फतेहपुर के तहत आते मार्ग ड्यूटी फतेहपुर मैं आजकल विकास की नई गाथा लिखी जा रही है ड्यूटी से फतेहपुर मार्ग जिसकी कुल लंबाई 20 किलोमीटर है उसकी हालत आजकल इतनी दयनीय हो चुकी है की इतनी दूरी तय करने के लिए एक से डेढ़ घंटे तक का समय लग रहा है बताते चलें कि हर 20 मीटर के बाद सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे पड़े हुए हैं या यूं कहें कि सड़क का निर्माण गड्ढों में किया गया है इससे कोई भी हादसा हो सकता है कई बार स्थानीय लोग सड़क की हालात को लेकर उप मंडल में मंडल उत्तर के अधिकारियों तक अपनी गुहार लगा चुके हैं बावजूद इसके विभाग कभी-कभार इस रास्ते को जेसीबी लगाकर लीपापोती करता हुआ नजर आता है । 
जिसका ताजा उदाहरण सड़क के बीचो बीच डाली जा रही मिट्टी है ज्ञात रहे कि फतेहपुर विधानसभा के नवनिर्वाचित विधायक भवानी सिंह पठानिया भी विधानसभा में सड़कों के मुद्दे को उठा चुके हैं उनका कहना है कि जब भी कोई मंत्री या मुख्यमंत्री विधानसभा का दौरा करता है तो उस दौरान कच्ची सड़कें पक्की होती हुई तो देखी गई हैं परंतु यह पहली ऐसी सरकार है जिसके दौरान पक्की सड़कें कच्ची होती हुई दिखाई दे रही है।
 ज्ञात रहे कि पिछले 15 सालों से इस विधानसभा में कांग्रेसका राज रहा है बावजूद इसके सड़कों की हालत का इस कदर रसातल में पहुंचना कहीं ना कहीं कांग्रेस की सरकारों पर भी सवालिया निशान खड़ा करता है भले ही जनप्रतिनिधि एक दूसरे पर छींटाकशी करते हुए अपना दामन पाक साफ करने की भरपूर कोशिश कर ले। लेकिन जनता जनार्दन सब जानते हुए मन मसोस करते हुए रह जाती है इस सड़क के टूटने का एक बड़ा कारण है कि कुछ दूरी पर उपमंडल बड़ोखर के द्वारा मंगल रास्ते पर साइन बोर्ड लगाया गया है । 
जिसमें निर्देशित किया गया है कि यह सड़क 9 टन भार वहन करने योग्य है जबकि इस सड़क पर गुजरने वाले टिपर मल्टी परपज वाहन 40 टन से भी ऊपर बाहर लेकर गुजरते हैं जिससे सड़क अक्सर जगह-जगह से या तो टूट जाती है या फिर जमीन में धंस जाती है और आने वाले वाहनों के लिए दुर्घटना का सबब बनती है ज्ञात रहे कि पुलिस विभाग व लोक निर्माण विभाग दोनों के कार्यालय फतेहपुर में इसी सड़क के किनारे हैं जो कि भारी वाहनों पर मूकदर्शक बनकर कार्यवाही करने की बजाय चुप्पी साधे रखते हैं।
इस संबंध में जब अधिशासी अभियंता रोशन लाल अत्री से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सड़क को ठीक-ठाक किया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments

आदित्य राणा सपैडू व काजल कपूर पट्टी ( चन्दरोपा ) ने किया पालमपुर का नाम रोशन