Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

आर्युवेदिक महाविद्यालय के छात्र संघ ने किया पपरोला बाजार का बहिष्कार

◆अगर यही रवैया रहा तो करने पड़ सकते है छात्रों को किराए के मकान खाली :मनोज सूद

बैजनाथ( रितेश सूद)
राजीव गांधी आर्युवेदिक स्नातकोत्तर महाविद्यालय पपरोला के छात्रो ने पपरोला बाजार के बहिष्कार करने की बात कही है,छात्र संघ के प्रधान डॉक्टर भारद्वाज ने जारी प्रेस नोट में कहा है कि सोमवार को बाजार के व्यकितयों दवारा महाविद्यालय में पढ़ने वाले प्रशिक्षु छात्रो के साथ दुर्व्यवहार किया गया है,और कहा गया है कि शाम पांच बजे के बाद छात्रों को महाविद्यालय से निकलना बंद कर देंगे,और जो छात्र बाहर पीजी में रह रहे है उनका बाजार आना बंद कर देंगे,और उनका दाना पानी बन्द कर देंगे,महाविद्यालय के छात्र संघ संघ के प्रधान का कहना है कि इस प्रकार छात्रों के साथ हुआ व्यवहार निंदनीय है और उसकी घोर निंदा करते है,उन्होंने कहा कि छात्र संघ ने पपरोला बाजार के बहिष्कार करने का फैसला लिया है।
वही दूसरी और महाविद्यालय के अध्यापक संघ ने भी छात्रों का समर्थन किया है ,अध्यापक संघ के प्रधान डॉक्टर माणिक सोनी का कहना है कि प्रशिक्षु छात्र दिन रात यहां पर काम कर रहे है और यहाँ के लोगो की सेवा कर रहे है,बाजार के व्यक्तियों ने जो इन छात्रों के साथ दुर्व्यवहार किया है वो गलत है ,उन्होंने पुलिस से दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की है।
सोमवार को आर्युवेदिक महाविद्यालय में पढ़ने वाले छात्र की पपरोला में रहने वाले लड़को के साथ मारपीट हो गई थी।

जिसके बाद आर्युवेदिक महाविद्यालय के करीब 50 से 60 छात्र डंडों और हाकियो के साथ पपरोला में रहने वाले लड़के के घर आ गए और उक्त लड़के को उनके हवाले करने की बात कही,लेकिन उस समय वो लड़का घर नही था,जिसके बाद उसके परिजनों के साथ भी धक्का मुक्की हुई थी,जिसके बाद मामला पुलिस में चला गया जहाँ देर रात उनका समझौता हो गया था,आर्युवेदिक महाविद्यालय के छात्रों का कहना है कि उस समय बाजार के व्यक्तियों ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया था,जिस कारण वो बाजार का बहिष्कार कर रहे है।

वहीं इस मामले में पपरोला व्यापार मंडल के प्रधान मनोज सूद का कहना है कि सोमवार को छात्रों के साथ लड़को का  झगड़ा हुआ था,जिसके बाद पुलिस स्टेशन में मामला गया था,जो कि पुलिस के विचाराधीन है,और इसमे किसी भी व्यापारी ने कोई बात नही कही है,अगर छात्रों ने पपरोला बाजार के बहिष्कार करने की बात कही है तो जल्द ही एक बैठक का आयोजन किया जाएगा। जिसमें निर्णय लिया जाएगा कि पपरोला का कोई भी व्यापारी,महाविद्यालय के छात्रों सहित अध्यापक वर्ग को सामना नही देगा और जिन घरों में आर्युवेदिक महाविद्यालय के छात्र रह रहे है उनको भी वहां नही रहने दिया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments

हिडिंबा माता मंदिर में  उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने बेटी के साथ नवाया शीश