Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

खुड्डी पँचायत का प्रतिनिधि मण्डल प्रधान सिकंदरा देवी की अगुवाई में मिला विधायक प्रकाश राणा से


जोगिंद्रनगर, जतिन लटावा
विधानसभा सत्र के बाद विधायक प्रकाश राणा ने जनता की समस्याओं को हल करने हेतु अपने निजी कार्यालय गोलवां में जनता से मिले। इस अवसर पर नारी निकेतन महिला मंडल लाहला अप्पर लाहला की समस्याओं को हल करते हुए विधायक ने कहा कि एक तो इनके गाँव मे पानी के डिस्ट्रीब्यूशन की जो समस्या है। उसे हल करने के आदेश सहायक अभियंता भड़ोल को पारित कर दिए गए हैं। कल सहायक अभियंता खुद लाहला गाँव का दौरा करेंगे। दूसरा एक और समस्या है कि मनरेगा के तहत इनके 90 दिन पूरे नहीं हुए तथा यह समस्या बहुत सी पंचायतों से आ रही है। 
इसके बाबत हमने  विकास खंड अधिकारी चौंतड़ा से बात की और उन्हें निर्देश दिए हैं कि सभी पंचायतों में मनरेगा के तहत 90 दिन पूरे किए जाएं। अब ऐसा नहीं है कि मनरेगा में मार्च से मार्च तक 90 दिन काउंट किए जाएंगे। जब से आप मनरेगा में लगे हैं तभी से आपके साल की गिनती होगी अगले साल उसी तारीख तक आपका एक साल पूरा होगा। 
90 दिन पूरे होने के बाद बहुत सी सुविधाएं आपको सरकार की तरफ से मिलेगी। इसमे बच्चों की पढ़ाई के लिए पैसा है बीमारी के लिए पैसा है शादियों के लिए पैसा है। अन्य और भी सुविधाएं सरकार की तरफ से मिलेगी। इन्होंने महिला मंडल भवन के लिए धन की माँग की उसके लिए भी हम धन का प्रावधान करेंगे। महिला मंडल नारी निकेतन को पहले भवन हेतु विभाग के नाम जमीन करनी पड़ेगी।

इस अवसर पर खुड्डी पँचायत का एक जनप्रतिनिधि मण्डल प्रधान सिकंदरा देवी की अगुवाई में अपनी पँचायत की समस्यों को लेकर विधायक प्रकाश राणा से मिला। उनकी समस्याओं को सुनते हुए विधायक ने कहा कि इनकी पँचायत में एक जो पानी की समस्या है उसे हल करने की हमने पहले भी कोशिश की है पर अभी भी कुछ समस्या रह गई है। उसके लिए हमने अधिशाषी अभियंता जोगिन्दर नगर को आदेश दिए हैं कि वह खुद खुड्डी पँचायत का दौरा करें व उनकी पानी की समस्या को जैसे भी सम्भव हो हल किया जाए। विधायक ने कहा आपकी पँचायत के लिए हमने एक ओर बड़ी स्कीम स्वीकृत करवा दी है, परंतु उसके लिए समय लगेगा। सड़क की जो आपकी समस्या है। उसे भी हल करने हेतु हमने सहायक अभियंता भड़ोल को आदेश पारित कर दिए हैं। आपकी सड़क की समस्या भी हल हो जाएगी। आगे विधायक ने कहा कि आपकी इस सड़क को हम नाबार्ड के तहत भी पैसे का प्रावधान करेंगे।

Post a Comment

0 Comments

आखिर क्या काम दिया गया मिड-डे मील वर्कर्स को?