Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जायका परियोजना से सुदृढ़ होगी ग्रामीण लोगों की आर्थिकी : राकेश पठानिया

◆सुखार पंचायत में आयोजित जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जनमंच को समाज के अन्तिम व्यक्ति की आवाज सुनने का प्रभावी मंच बताया

नूरपुर, राजेश कतनोरिया
वन, युवा, सेवाएं एवम खेल मंत्री राकेश पठानिया ने रविवार को  सुखार पंचायत में आयोजित जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जनमंच को समाज के अन्तिम व्यक्ति की आवाज सुनने का प्रभावी मंच बताया है। उन्होंने कहा कि आम नागरिकों की समस्याओं के निदान में प्रदेश सरकार का यह  महत्वाकांक्षी कार्यक्रम  ग्रामीण लोगों को अपनी  बात सरकार तथा प्रशासन तक पहुंचाने में काफी मददगार साबित हो रहा है। इस कार्यक्रम में क्षेत्र की कुल 12 पंचायतों के लोगों की समस्याओं का निदान किया गया। इनमें ग्राम पंचायत सुखार, चरुड़ी, अनोह, पंजाहड़ा, अगार, धनेटी, ग्योरा, भलेटा, कमनाला, जाच्छ, बासा वजीरां तथा बासा  पंचायत के लोग शामिल रहे। जिसमें करीब 2000 लोगों ने भाग लिया।
    वन मंत्री ने बताया कि कांगड़ा ज़िला में वन विभाग द्वारा पहली अप्रैल से  ‘जायका प्रोजेक्ट’ ( जापान अंतर्राष्ट्रीय सहयोग एजेंसी ) शुरू किया गया है।  उन्होंने बताया कि इस परियोजना के लागू होने से जहां वन क्षेत्र में वृद्धि होगी वहीं  ग्रामीण लोगों की आर्थिकी भी सुदृढ़ होगी।
    
पठानिया ने बताया कि  इस परियोजना के तहत ज़िला में ग्रामीण कमेटियां गठित की जाएंगी। प्रत्येक कमेटी द्वारा 2-2 स्वयं सहायता समूहों को अपने साथ जोड़ कर लगभग 30 हज़ार महिलाओं को अपना रोजगार शुरू करने के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। 
    वन मंत्री ने कहा कि  इन कमेटियों तथा  स्वयं सहायता समूहों का सहयोग नर्सरी विंग तथा वन क्षेत्र को बढ़ाने में भी लिया जाएगा। प्रथम चरण में इस योजना के तहत नूरपुर, धर्मशाला एवं पालमपुर तथा देहरा वन मण्डलों को चयनित किया जा रहा है। इन मंडलों में स्वयं सहायता समूहों का गठन कर लोगों की आजीविका को ऊपर उठाने एवं स्वरोजगार उपलब्ध करवाने पर बल दिया जाएगा।
    उन्होंने बताया कि वन विभाग जल्द ही अपना एक नया नर्सरी विंग भी प्रारम्भ करने जा रहा है, ताकि वन विभाग को उच्च गुणवत्ता की पौध मिलना सुनिश्चित हो सके।  
   उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा पहली अप्रैल से सामाजिक सुरक्षा पेंशन में  बढ़ोतरी के साथ आयुसीमा को  60 वर्ष करने तथा आय सीमा की बंदिश  को  समाप्त कर दिया गया है।  मुख्यमंत्री गृहिणी  सुविधा योजना के तहत प्रतिवर्ष मुफ्त में मिलने वाले दो  रसोई गैस  सिलिंडर की जगह अब तीन गैस सिलिंडर दिए जाने का प्रावधान किया गया है ।  इसके अतिरिक्त 60 यूनिट तक बिजली का इस्तेमाल करने पर कोई बिल नहीं भरना पड़ेगा। इसके साथ जहां पहले हिमकेयर कार्ड को हर वर्ष रिन्यू करवाना पड़ता था, अब यह 3 साल तक मान्य होगा  तथा इसका पंजीकरण सारा साल जारी रहेगा ।
 राकेश पठानिया ने बताया कि जिला में पिछले चार वर्षों के दौरान हिमाचल गृहिणी योजना के तहत 67 हज़ार गैस कनेक्शन वितरित किये गए हैं, जिनमें से नूरपुर विधानसभा क्षेत्र में ही 5100 गैस कनेक्शन महिलाओं को वितरित किये गए हैं। जबकि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत ज़िला में 25 हज़ार गैस कनेक्शन दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस अवधि में ज़िला के  65 हज़ार नए पात्र लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत शामिल किया गया है जिसमें से विधानसभा क्षेत्र के लगभग 5 हज़ार लोग लाभान्वित हुए हैं। 
    उन्होंने कहा कि कोरोना कालखंड के दौरान  विकास कार्य प्रभावित हुए हैं, लेकिन इसके बावजूद भी विकास कार्यों को बिना किसी रुकावट जारी रखा गया है। उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपए  की  विकास परियोजनाओं के कार्य प्रगति पर हैं तथा विकास कार्यों को और गति प्रदान की जाएगी, जिसके लिए धन की कोई कमी नहीं रहेगी। 
  इससे पहले वन मंत्री ने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनियों का भी अवलोकन किया। उनजोने इस मौके पर "एक बूटा बेटी के नाम " 
पौधा भी रोपित किया।
 
     इस मौके पर वन मंत्री ने मुख्यमंत्री  गृहिणी सुविधा योजना के तहत 96 महिलाओं को गैस कनेक्शन भी वितरित किये। इस के अतिरिक्त 6 दिव्यांगोंजनों को व्हील चेयर तथा अन्य उपकरण भेंट किये। "बेटी है अनमोल योजना" के तहत 10 बेटियों को एफडीआर तथा "मुख्यमंत्री शगुन योजना" के तहत  5 बेटियों की शादी के लिए 31000-3100 रुपए की राशि के चेक वितरित किये।
      उन्होंने इस मौक़े पर 23 लाभार्थियों को आपदा राहत राशि तथा  मुख्यमंत्री राहत राशि के 20 लाख रुपए के चेक भी वितरित किये।

कार्यक्रम में आए 43 मामले

इस दौरान जनमंच कार्यक्रम में विभिन्न विभागों से जुड़े कुल 43 मामले दर्ज किए गए। इनमें से 40 समस्याओं का निपटारा मौके पर कर दिया गया। शेष का निपटारा अगले 10 दिनों के भीतर सुनिश्चित करने के लिए संबंधित विभागों को निर्देश दिए गए। 
     जनमंच दिवस पर स्वास्थ्य तथा आयुष विभाग द्वारा आयोजित
 नि:शुल्क चिकित्सा शिविर में करीब 425 लोगों की स्वास्थ्य संबंधी जांच की गई। 
.......ये रहे मौजूद

उपायुक्त डॉ निपुण जिंदल, पुलिस अधीक्षक डॉ खुशाल शर्मा, सीएमओ डॉ गुरदर्शन गुप्ता ,  एसडीएम अनिल भारद्वाज, लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता  मोहिंद्र धीमान, जल शक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता राजीव महाजन,डीएसपी सुरिन्द्र शर्मा,तहसीलदार सुरभि नेगी, बीडीओ श्याम सिंह,नायब तहसीलदार देशराज,  अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ जिला कांगड़ा के अध्यक्ष अश्विनी कुमार, नूरपुर के अध्यक्ष राजेश सहोता सहित जिला के अन्य विभागों के अधिकारी कर्मचारी तथा बड़ी संख्या में  स्थानीय लोग उपस्थित रहे ।   

Post a Comment

0 Comments

ट्रक चला रहे व्य​क्ति के साथ अचानक घटी यह घटना