Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

सड़क सुरक्षा के लिए रोड़ सफ्टी पार्क बनाने की योजना

                       एचआरटीसी विभाग में भ्रष्टाचार पर जीरो टोलरेंस, दलालों पर कसेगी नकेल

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

1350 करोड़ के घाटे के तले दबे हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम को उभारने के लिए उपमुख्यमंत्री ने कई कदम उठाने की बात कही है। एचआरटीसी को घाटे से उबारने के लिए इस बार टैक्स को 675 करोड़ को बढ़ाकर 850 करोड़ करने की करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके अलावा अवैध वॉल्वो बसों पर नकेल कसने के लिए कानून लाया जा रहा है। जिससे सरकार को सालाना दस करोड़ का राजस्व प्राप्त होगा। 

शिमला में सड़क सुरक्षा और परिवहन विभाग की समीक्षा बैठक के बाद उप मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में 21 लाख 50 हज़ार वाहन पंजीकृत है। जिनमें से 18 लाख 45 हजार नॉन ट्रांसपोर्ट के हैं जबकि 3 लाख 8 हजार ट्रांसपोर्ट के हैं। हिमाचल के 15 लाख 12 हजार लोगों के पास वाहन  लाइसेंस है हैं। सिर्फ 1 लाख 12 हज़ार महिलाएं  लाइसेंस धारक हैं। मुकेश अग्निहोत्री ने बताया कि अवैध रूप से चलने वाली  वॉल्वो बसों से टैक्स के रूप में 10 करोड़ राजस्व प्राप्ति होगी। 

हिमाचल में बिना नंबर के कोई भी गाड़ी नही चलेगी। एचआरटीसी  में दलाली भ्रष्टाचार को दूर करने के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे। जो अधिकारी अच्छा काम करेंगे उनका सम्मान किया जाएगा। प्रदेश में 15 साल पुरानी गाड़ियां नहीं चलेगी उसके लिए स्क्रैप नीति बनाई जाएगी। गाड़ियों के नम्बर प्लेट से लिखे हुए को हटाने के निर्देश दे दिए गए हैं। हादसों को कम करने के लिए ब्लैक स्पॉट चयनित करके उनको दरुस्त किया जायेगा। हिमाचल में हर दिन तीन व्यक्तियों की मौत सड़क हादसों में हो जाती है। 



Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी