Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

12 जून को हिमाचल प्रदेश विधानसभा में होगा "बाल सत्र" का आयोजन

             सुंदर नगर की जानवी मुख्यमंत्री,जबकि 68 बच्चें मंत्री व विधायकों की भूमिका में आयेंगे नजर

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

हिमाचल विधानसभा में राजस्थान के बाद 12 जून को एक। दिवशीय "बाल सत्र" का आयोजन किया जा रहा है। विश्व बाल दिवस के उपलक्ष पर ये सत्र आयोजित किया जा रहा है। इस बाल सत्र में 17 साल से कम 68 बच्चे भाग लें रहे हैं। सुंदर नगर की दसवीं में पढ़ने वाली जानवी का चयन मुख्यमंत्री के लिए हुआ है। यह बच्चे हिमाचल प्रदेश शिक्षा विभाग के तत्वाधान में 3 माह तक चले बच्चों की सरकार कैसी हो, अभियान के तहत चुने गए हैं। 

विधान सभा अध्यक्ष कुलदीप पठानियाँ ने बताया कि बाल सत्र के लिए 68 में से 63 बच्चे हिमाचल के चयनित हुए हैं जबकि पांच बच्चे अन्य राज्यों के हैं। बाल सत्र में मुख्यमंत्री समेत मंत्री व सदस्य भी मौजूद रहेंगे। अध्यक्ष ने कहा कि बच्चों के मनोबल को बढ़ाने के लिए व देश के उज्ज्वल लोकतंत्रिक भविष्य की नीव रखने के लिए बाल सत्र का आयोजन किया जा रहा है।  बच्चों की एंट्रीज देश भर के कुल 9 राज्यों से आयी थी, जिनमें हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, उत्तराखण्ड, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, गुजरात, असम, बिहार राज्य है।  आखिरी चरण में बच्चों द्वारा उठाये गये मुद्दों की अहमियत एवं सुझावों की ज़रूरत के आधार पर 68 बच्चों का चयन किया गया है। सत्र के लिए 40 लड़कियों व 28 लड़कों का चयन हुआ है। 

बाल सत्र में सुंदर नगर की जानवी मुख्यमंत्री की भूमिका में नज़र आयेगी। जानवी ने वर्तमान परिदृश्य में राजनीति पर अपने विचार रखे और आज के समय में राजनेताओं और सरकारों को किस तरह से काम करना चाहिए इस पर भी अपनी राय रखी। जानवी ने कहा की राजनीति में पढ़े लिखे लोग आने चाहिए। ताकि देश व प्रदेश का ईमानदारी से आगे बढ़ाया जा सके। हालांकि जानवी राजनीति में न जाकर आईपीएस बनना चाहती हैं। 

Post a Comment

0 Comments

सात एचपीएस अधिकारियो को पुलिस अधीक्षक का रूप मे नियुक्ति