Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

13 किलो लहसुन के साथ लाहौल में 5 व्यक्ति गिरफ्तार

                                                              लाहौल में वन विभाग ने की बड़ी कार्यवाही 

लाहौल-स्पीति,रिपोर्ट रंजीत लाहौली 

जिला लाहौल स्पीति में वन विभाग ने जंगली जड़ी बूटी (फ्रिटिलारिया सिरोसा) की अवैध तस्करी पर बड़ी कार्रवाई की है। मिली जानकारी के अनुसार लाहौल में वन विभाग के अधिकारियों ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 13 किलो जंगली लहसुन के साथ 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं, वन विभाग द्वारा आगामी तफ्तीश कर कार्रवाई की जाएगी। 

वन मंडल अधिकारी लाहौल अनिकेत बानवे ने जानकारी देते हुए बताया कि लाहौल वन मंडल के तिंदी रेंज की एक वन गश्ती टीम ने अपने नियमित गश्त के दौरान अवैध रूप से निकाले गए जंगली लहसुन (फ्रिटिलारिया सिरोसा) के साथ 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। वन मंडल अधिकारी ने बताया कि गश्ती दल ने 13 किलोग्राम ताजा जंगली लहसुन बरामद किया है। 

वन मंडल ने बताया कि व्यक्तियों की पहचान हसन, लतीफ, प्यारदीन, हाशम, हामिद के तौर पर हुई है। सभी आरोपी चंबा जिले के निवासी हैं,वन मंडल अधिकारी लाहौल अनिकेत बानवे ने बताया कि इस मामले में इंडियन फॉरेस्ट एक्ट 1927 की धारा 68 के तहत मामला दर्ज किया गया है। जिसमें पहली बार पकड़े जाने पर 30 हजार का जुर्माना किया गया है। 

जंगली लहसुन पहाड़ी इलाकों में पाया जाता है। यह एक औषधीय पौधा है. वहीं, इसके खनन पर भी वन विभाग के द्वारा रोक लगाई गई है। वन विभाग के द्वारा ही इसके खनन की अनुमति स्थानीय लोगों को दी जाती है। जंगली लहसुन बाजार में 5000 से ₹10000 प्रति किलो तक बिकता है। कई आयुर्वेदिक औषधियों में इसका प्रयोग किया जाता है। दिल की बीमारी, जोड़ों का दर्द, शरीर में सूजन सहित कई अन्य बीमारियों में जंगली लहसुन का उपयोग किया जाता है। हिमाचल प्रदेश के जिला लाहौल स्पीति, जिला कुल्लू की पहाड़ियों, जिला चंबा और मंडी के ऊंचाई वाले इलाकों में यह जंगली लहसुन पाया जाता है। 


Post a Comment

0 Comments

सीएम सुक्खू ने महिला सम्मान निधि योजना शुरू की