Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

हरोली में बारिश से नुकसान का जायजा लेने खुद पंहुचे उपमुख्यमंत्री

                                      मॉनसून ने जिला ऊना में अपनी पहली ही बारिश में कहर बरपाया

ऊना,रिपोर्ट अविनाश चौहान 

मॉनसून ने जिला ऊना में अपनी पहली ही बारिश में कहर बरपाया है ,खासकर हरोली विधानसभा क्षेत्र में अनेक गांव में पानी घरों में आया है, खेतों में आया है और सड़कों का नुकसान भी हुआ है। ऐसे में हरोली में बरसात की पहली बारिश से नुकसान की खबर मिलते ही उपमुख्यमंत्री  मुकेश अग्निहोत्री ने शिमला में अपने सभी कार्यक्रम रद्द किए और वे हरोली पहुंच गए। जिला में पहली बारिश से करीब विभिन्न विभागों का 2 करोड का नुकसान आंकलन किया गया है। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि पानी के तेज बहाव का आना चिंता का विषय है। लोगों को भी चिंतित करता है ,हम भी चिंतित हैं ,इसे व्यवस्थित करने के लिए हर संभव प्रयास होंगे।

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री हरोली से विधायक हैं, हरोली विधानसभा क्षेत्र में बारिश से पानी के तेज बहाव से जिस प्रकार से नुकसान हुआ, उन्हें लोगों के फोन जा रहे थे। ऐसे में मुकेश अग्निहोत्री ने बैठकों को रद्द कर अपने लोगों के बीच आने को प्राथमिकता दी ।मुकेश अग्निहोत्री ने हरोली पहुंचते ही बारिश से प्रभावित इलाकों का दौरा किया ।जिला प्रशासन को तुरंत राहत कार्य चलाने के निर्देश दिए, जो सड़के बंद  हुई थी उन्हें खोलने के निर्देश दिए। कहा का नुकसान हुआ है ?विभागों को उसका आंकलन करने के निर्देश दिए? मुकेश अग्निहोत्री के निर्देशों के बाद प्रशासनिक आमला फील्ड में उतर गया और राहत के कार्य भी चले .मुकेश अग्निहोत्री ने निरीक्षण करते हुए लोगों से मुलाकात की और कहा कि सरकार जनता की है ,चिंता ना करें, किसी को भी नुकसान नहीं होने दिया जाएगा, सरकार साथ खड़ी है। 

मुकेश ने कहा कि जिला में करीब 2 करोड़ का नुकसान अभी तक रिपोर्ट किया गया है।उन्होंने कहा कि बारिश एक प्राकृतिक आपदा है, इस पर इस बार जिस प्रकार से यह पहली बारिश ने नुकसान किया है ,पानी तेज बहाव में आया है, इसने सतर्क होने का अवसर भी दिया है ।उन्होंने कहा कि सभी लोग भी सतर्क रहे ,बारिश के समय कोई भी जोख़िम ना लें ।उन्होंने कहा कि हम हर समय लोगों के साथ खड़ा हूं ।उन्होंने कहा कि नुकसान का आकलन करने के निर्देश दे दिए गए हैं ,जो भी राहत होगी वह दी जाएगी ।उन्होंने कहा कि अनेक लोगों के घरों में पानी आया है, खेतों में पानी आया है चिंता का विषय है ,नुकसान हुआ है ।उन्होंने कहा कि इस समय हम हर परिवार के साथ खड़ा हूं।

और जो भी यथासंभव होगी सहायता की जाएगी। मुकेश अग्निहोत्री को अपने बीच पाकर लोग का दुख कम हुआ,लोगो को राहत की उम्मीद बंधी,  लोगों ने उन्हें अपनी दिक्कत बताई, किस प्रकार से बारिश ने नुकसान किया है, क्यों हुआ है? इस सब पर चर्चा की वहीं जनप्रतिनिधियों ने भी मुकेश अग्निहोत्री से बारिश से हुए नुकसान को लेकर रिपोर्ट दी। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं हर गांव में जहां-जहां नुकसान हुआ है उसकी रिपोर्ट ली जाए और यथासंभव उस पर कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर उनके साथ जिला प्रशासन के अधिकारी, हरोली विधानसभा क्षेत्र के अधिकारी व कांग्रेस के नेता व जनप्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि करीब 15 सौ करोड रुपए की लागत से स्वां नदी का तटीयकरण हुआ है और बहुत बड़ा भूमि का हिस्सा कृषि योग्य बना है। 

उन्होंने कहा कि बारिश का तेज बहाव आना चिंता की बात है। उन्होंने कहा कि इस चैनेलाइजेशन को भी मजबूत रखना होगा ,क्योंकि स्वां के पानी को यही तटीयकरण चैनेलाइज कर रहा है।मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि जो अब नुकसान हुआ बह सहायक खड्डों के कारण हुआ है, जो स्वां की सहायक खड़े हैं। उन्होंने कहा कि इनका चैनेलाइजेशन भी होना है ।उनका की इसकी रिपोर्ट भी बनी है ,इस मसले को और अधिक तेजी के साथ आगे उठाया जाएगा ताकि यह चैनेलाइजेशन की प्रक्रिया भी पूरी हो, उसके बाद किस प्रकार तेज बहाव का पानी सीधा घरों में या सड़कों पर नहीं आएगा, इसके लिए हम प्राथमिकता पर प्रयास करेंगे।

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि विभागीय अधिकारियों को, प्रशासन को दिए निर्देश भी दिए गए हैं कि जिला भर में जहां-जहां भी पानी तेज बहाव में रिहायशी इलाकों में आया है, घरों में आया है उसके क्या कारण है इसका भी आंकलन किया जाए ?इसके भी निर्देश दिए गए है।

Post a Comment

0 Comments

सात एचपीएस अधिकारियो को पुलिस अधीक्षक का रूप मे नियुक्ति