Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

येलो अलर्ट के बीच शिमला समेत कई जिलों में हुई बारिश

                               किन्नौर के निगुलसरी में पिछले 10 दिनों से बंद एनएच-5 हुआ बहाल 

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

हिमाचल प्रदेश में रविवार को येलो अलर्ट के बीच शिमला समेत कई जिलों पर बारिश हुई तो चोटियों पर हिमपात हुआ। जटोन बैराज में जलस्तर बढ़ने के कारण गेट खोलने पड़े। सिरमौर के अधिकांश हिस्सों में रात भर बारिश से गिरि नदी का जलस्तर बढ़ गया। इससे मक्की को नुकसान पहुंचा।

मंडी के पंडोह और पतलीकूहल से मनाली के बीच एनएच की मरम्मत के चलते ट्रैफिक बंद रहेगा। किन्नौर के निगुलसरी में पिछले 10 दिनों से बंद एनएच-5 बहाल हो गया। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने सोमवार के लिए भी खराब मौसम का येलो अलर्ट जारी किया है।मौसम बिगड़ने के कारण रविवार सुबह दिल्ली से इंडिगो का विमान गगल हवाईअड्डे पर नहीं पहुंचा। रविवार दोपहर के बाद जहां कुल्लू और मनाली में हल्की बूंदाबांदी हुई, वहीं रोहतांग दर्रा के अलावा दूसरी ऊंची चोटियों पर भी बर्फ के फाहे गिरे हैं।

बर्फबारी शुरू होने के साथ ही अब घाटी में तापमान लुढ़कना शुरू हो गया है। सुबह व शाम के समय ठंड महसूस की जा रही है। आने वाले दिनों में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा तो अक्तूबर तक ठंड में और इजाफा होगा। मणिमहेश यात्रा के दौरान रविवार दोपहर तक ही भरमौर से गौरीकुंड के लिए हवाई उड़ानें हो सकीं। दोपहर बाद बारिश शुरू होने से उड़ानें नहीं हो पाईं। दोपहर तक कुल 27 उड़ानें हुईं, जिनमें 290 यात्रियों ने हेलिकाप्टर के जरिये मणिमहेश यात्रा की। 149 यात्री भरमौर से मणिमहेश के लिए रवाना हुए, जबकि 141 यात्रियों ने गौरीकुंड से भरमौर के लिए उड़ान भरी।




Post a Comment

0 Comments

ट्रक चला रहे व्य​क्ति के साथ अचानक घटी यह घटना