Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

त्रिलोकनाथ में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए 10 वर्ष में खर्च कर दिए 2.50 करोड़, नहीं तैयार हो पाई सराय

                                             श्रद्धालुओं को स्थानीय होम स्टे में ठहराव करना पड़ता है

लाहौल-स्पीति,ब्यूरो रिपोर्ट 

त्रिलोकनाथ में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए वर्ष 2013 में शुरू किए गए सराय भवन का निर्माण पर 2.50 करोड़ रुपये की राशि खर्च करने के बाद कार्य पूरा नहीं हो सका है। इंतजार लंबा खींचता जा रहा है। ऐसे में त्रिलोकनाथ में भगवान त्रिलोकीनाथ के दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं को सराय भवन की सुविधा नहीं मिल रही। श्रद्धालुओं को स्थानीय होम स्टे में ठहराव करना पड़ता है।

बता दें इस भवन निर्माण का कार्य वर्ष 2013 में शुरू हुआ था। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने इस बहुमंजिला भवन को जुलाई 2023 तक तैयार करने का दावा किया था। मगर भवन निर्माण का कार्य अभी भी पूरा नहीं हो सका है। लाहौल घाटी के लोगों का कहना है कि त्रिलोकनाथ सराय भवन का कार्य जल्द पूरा हो जाए तो श्रद्धालुओं को ठहराने की समस्या से निजात मिलेगी।हिंदुओं और बौद्ध धर्म के लोगों का एक साथ पूजनीय स्थल लाहौल के प्रसिद्ध त्रिलोकनाथ में हर साल हजारों श्रद्धालुओं पहुंचते हैं। 

स्थानीय लोगों के साथ श्रद्धालुओं को इस भव्य सराय भवन का जल्द बनने का इंतजार है। अटल टनल रोहतांग बनने के बाद त्रिलोकनाथ में भगवान त्रिलोकीनाथ के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी हुई हैउधर, लोक निर्माण विभाग चिनाव मंडल उदयपुर के अधिशासी अभियंता अभियंता पवन राणा ने बताया कि त्रिलोकनाथ सराय भवन निर्माण का कार्य थोडा-सा बचा है। अगले सीजन की शुरुआत में त्रिलोकनाथ सराय भवन तैयार कर लिया जाएगा।त्रिलोकनाथ में निर्माणाधीन तीन मंजिला सराय भवन में पर्यटकों और श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए 18 बिस्तरों की चार डोरमेट्री, डबलरूम के नौ कमरे, एक ड्राइंग रूम, एक हाल, एक रसोई और एक चौकीदार क्वार्टर शामिल हैं।





Post a Comment

0 Comments

जिला कुल्लू में नशा कर पछताईं वायरल वीडियो वाली लड़कियां