Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

सात सात से ठंडे बस्ते में पड़े आधुनिक बस अड्डा धर्मशाला के निर्माण को अब जल्द गति मिलेगी

                                                         धर्मशाला बस अड्डे के निर्माण का रास्ता साफ

काँगड़ा,रिपोर्ट नेहा धीमान 

सात सात से ठंडे बस्ते में पड़े आधुनिक बस अड्डा धर्मशाला के निर्माण को अब जल्द गति मिलेगी। वन विभाग की भूमि को परिवहन निगम के नाम 40 साल के लिए लीज पर दे दिया गया है। जल्द अन्य शेष औपचारिकताओं को पूरा कर धर्मशाला बस अड्डे का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। करीब सात सालों से फाइलों में सिमटे धर्मशाला के आधुनिक बस अड्डे निर्माण को पूरा कर जनता को समर्पित कर दिया जाएगा।

गौरतलब है कि बस अड्डा बनाने के लिए वर्ष 1987 में परिवहन निगम के नाम 6082 वर्ग मीटर भूमि हो गई थी। इसके अलावा वन विभाग की 2143 वर्ग मीटर अतिरिक्त भूमि परिवहन निगम के नाम होनी थी, लेकिन भूमि की एफसीए क्लीयरेंस न होने के कारण यह काम अधर में लटका था। वहीं एफसीए क्लीयरेंस होने के बाद परिवहन निगम के नाम भूमि की लीज होनी थी। इसके लिए निगम की ओर से लीज पर भूमि लेने के लिए 53,575 रुपये भी जमा करवा दिए गए थे। अब सभी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद जल्द बस अड्डे का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

 इस बहुमंजिला बस अड्डे में लोगों को कई प्रकार की सुविधाएं मिलेंगी। इसके अलावा इलेक्ट्रिक बसों के लिए चार्जिंग स्टेशन, यात्रियों और चालकों-परिचालकों को ठहरने के लिए कमरों की सुविधा भी प्रदान की जाएगी। इसके अलावा बस अड्डे में यात्रियों की सुविधा के लिए स्वास्थ्य केंद्र भी बनाया जाएगा। इस बस अड्डे का निर्माण ऊना बस अड्डे की तर्ज कर किया जाएगा। 2017 में तत्कालीन खाद्य आपूर्ति एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री जीएस बाली ने इस अंतरराज्यीय आधुनिक बस अड्डे का शिलान्यास किया था। इसके बाद मई 2023 में मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने बस अड्डे का भूमि पूजन किया था।धर्मशाला बस अड्डे के निर्माण के लिए भूमि परिवहन निगम के नाम न होने के कारण काम लटका था, लेकिन अब वन विभाग की भूमि की लीज परिवहन निगम के नाम हो गई है। इसके अलावा अन्य शेष औपचारिकताओं को पूरा कर निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। 




Post a Comment

0 Comments

जिला कुल्लू में नशा कर पछताईं वायरल वीडियो वाली लड़कियां