Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

कांगड़ा को पर्यटन राजधानी बनाने का फैसला सराहनीय : शान्ता कुमार

                                              पालमपुर का विकास ही सभी का ध्येय : आशीष बुटेल

पालमपुर,रिपोर्ट नेहा धीमान 

पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने मुख्य संसदीय सचिव शहरी विकास एवं शिक्षा आशीष बुटेल की उपस्थिति में पालमपुर में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की आदमकद प्रतिमा का अनावरण किया।निगम कार्यालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम में लोगों को सम्बोधित करते हुए शान्ता कुमार ने कहा कि पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर यह ऐतिहासिक कार्यक्रम है जहां राजनीतिक दलों की दीवारें नहीं हैं। उन्होंने कहा कि शायद ऐसा कार्यक्रम न कभी पहले हुआ होगा और दोबारा पता नहीं कभी होगा।उन्होंने कहा कि देश की आज़ादी के संघर्ष करने वाले , जेल जाने वाले और आज के भारत की नींव रखने वाले देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू पालमपुर आये और बुटेल परिवार में कन्हैया लाल बुटेल से मिलने गये थे। यह पालमपुर के प्रत्येक नागरिक के लिये गौरव की बात है। 

शांता कुमार ने कहा कि पालमपुर में राजनीति का स्तर बहुत ऊंचा है। यहां प्यार और आदर की राजनीति होती है और घृणा तथा द्वेष की राजनीति का कोई स्थान नहीं है।  उन्होंने कहा कि पहले लोकतंत्र में राजनीति प्यार और आदर की होती थी और लड़ाई केवल सिद्धान्तों की होती थी। लेकिन वर्तमान समय में लोकतंत्र, विरोध तन्त्र बनकर रह गया है।उन्होंने कहा कि पालमपुर के चौधरी सरवन कुमार कृषि विश्वविद्यालय और विवेकानंद मेडिकल ट्रस्ट अस्पताल प्यार की राजनीति के ज्वलंत उदाहरण हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें जीवन में बड़ा मान-सम्मान और बहुत कुछ प्राप्त हुआ इसके लिये वे प्रदेश, कांगड़ा और पालमपुर के लोगों के आभारी हैं।

      शान्ता कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू, उनसे मिलने  पालमपुर आये थे। उस समय उन्होंने कांगड़ा में पर्यटन की दृष्टि से कार्य करने का आग्रह किया था। उन्होंने कहा कि वे मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के धन्यवादी हैं कि मुख्यमंत्री ने कांगड़ा को पर्यटन राजधानी बनाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि जिला में पर्यटन विकास का लाभ ज़िला को होगा।उन्होंने आशीष बुटेल तथा  नगर निगम द्वारा देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की प्रतिमा के अनावरण पर आमन्त्रित कर उन्हें श्रद्धांजलि देने का अवसर देने के लिये आभार प्रकट किया।     

    इससे पहले मुख्य संसदीय सचिव ने शांता कुमार का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि पंडित जवाहर लाल नेहरू की पुरानी प्रतिमा को बदलने की प्रेरणा शान्ता कुमार ने ही दी। उन्होंने शान्ता कुमार का प्रतिमा के लिये एक लाख रुपये देने के लिये भी आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि पालमपुर में राजनीति से ऊपर उठकर लोग पालमपुर के विकास के लिये कार्य करते हैं। उन्होंने कहा कि स्वच्छ राजनीति पालमपुर की पहचान हैं। उन्होंने कहा कि दलों के रास्ते अलग अलग हो सकतें है लेकिन सबका ध्येय तथा मंजिल एक ही है पालमपुर का विकास।

 आशीष ने कहा कि पंडित जवाहर लाल नेहरू ने भारतवर्ष की आज़ादी के लिये अपना सब कुछ न्योछावर किया है। उन्होंने युवा काल के महत्वपूर्ण 11 वर्ष जेल में व्यतीत किये और जेल में भी भारत की आज़ादी के कार्य में लगे रहे। उन्होंने कहा कि डिस्कवरी ऑफ इंडिया किताब में इसका वर्णन किया है। उन्होंने कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री के रूप में पंडित जवाहर लाल नेहरू ने देश की कमान संभाल कर देश को उन्नति तथा प्रगति के पथ पर आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा कि आज भारत दुनियां में शीर्ष पर है तो इसमें सभी का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा कि पालमपुर के मुख्य चौराहे  पर पंडित जवाहर लाल नेहरू की प्रतिमा उनकी कुर्बानी तथा योगदान को याद दिलाती रहेगी।उन्होंने नगर निगम के मेयर, उपमहापौर, पार्षदों, अधिकारियों और कर्मचारियों की शहर की सुंदरता बनाएं रखने के लिये सराहना की। उन्होंने कहा कि उन्हें यह जानकर प्रसन्ता हुई कि निगम क्षेत्र से 225 मीट्रिक टन कचरे का निष्पादन किया गया और इसे अलग-अलग स्थान पर भेजा गया। उन्होंने कहा कि इसमें सबसे अधिक योगदान सफाई कर्मचारियों का है।इस अवसर पर निगम के सभी कर्मचारियों को सम्मानित किया गया।




Post a Comment

0 Comments

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष करेंगे प्रदेश भर में तीन चुनावी रैलियां