Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

विधानसभा परिसर में प्रवेश के लिए जारी होने वाले विजिटर पास की पहली बार दोहरी जांच होगी

                                   पहली बार बोर्ड ऑफ ऑफिसर्स के हवाले तपोवन की सुरक्षा का जिम्मा

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

संसद की सुरक्षा में चूक की घटना से सबक लेते हुए 19 दिसंबर से धर्मशाला के तपोवन में शुरू हो रहे विधानसभा के शीतकालीन सत्र के लिए पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए हैं। सुरक्षा के लिए हिमाचल में पहली बार बोर्ड ऑफ ऑफिसर्स का गठन किया गया है। 19 दिसंबर से शुरू हो रहे विधानसभा के शीतकालीन सत्र के मद्देनजर पुलिस महानिदेशक ने वीरवार को तेजतर्रार पुलिस अधिकारियों की टीम का गठन करने के आदेश जारी कर दिए।

आईजी इंटेलिजेंस संतोष पटियाल को बोर्ड ऑफ ऑफिसर्स का इंचार्ज बनाया गया है। डीआईजी उत्तरी क्षेत्र अभिषेक दुल्लर, एसपी कांगड़ा शालिनी अग्निहोत्री और एसपी सिक्योरिटी भूपेंद्र नेगी इस टीम के सदस्य होंगे। यह टीम विधानसभा अध्यक्ष से लगातार संपर्क में रहेगी। पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के लिए पूरा तपोवन सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में रहेगा।

विधानसभा परिसर में प्रवेश के लिए जारी होने वाले विजिटर पास की पहली बार दोहरी जांच होगी। पिछले साल विधानसभा परिसर की दीवारों पर शरारती तत्वों ने खालिस्तानी नारे लिख दिए थे, जिसके बाद सुरक्षा को लेकर गंभीर सवाल उठे थे।संसद की सुरक्षा में चूक को देखते हुए विधानसभा सत्र के दौरान पुख्ता सुरक्षा के लिए आईजी इंटेलिजेंस संतोष पटियाल की अगुवाई में बोर्ड ऑफ ऑफिसर्स गठित किया है। टीम विधानसभा अध्यक्ष के सीधे संपर्क में रहेगी।




Post a Comment

0 Comments

सात एचपीएस अधिकारियो को पुलिस अधीक्षक का रूप मे नियुक्ति