Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

सामान्य में 45, आरक्षित में 37 अंक वाले भी कर सकेंगे बीएड

                                आरक्षित वर्ग के लिए 45 की जगह अब 37 अंक लेने वाले छात्र भी पात्र होंगे

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय (एचपीयू) की केंद्रीय बीएड एडमिशन कमेटी ने एचपी स्टेट और मैनेजमेंट कोटे की खाली सीटों को भरने के लिए प्राप्त अंकों की शर्त में पांच फीसदी की छूट दी है। छूट के बाद अब सीटों के लिए पात्र होने वाले अभ्यर्थियों के लिए विवि के सभागार में 8 जनवरी को स्पॉट राउंड काउंसलिंग रखी गई है। कमेटी के फैसले के मुताबिक स्टेट और मैनेजमेंट कोटे के लिए पहले शैक्षणिक सत्र में सामान्य वर्ग के लिए 53 अंकों की शर्त थी, लेकिन अब 45 प्राप्तांक वाले अभ्यर्थी भी पात्र होंगे। 

आरक्षित वर्ग के लिए 45 की जगह अब 37 अंक लेने वाले छात्र भी पात्र होंगे। शर्त हिमाचल प्रदेश विवि और सरदार पटेल विवि (एसपीयू) मंडी से संबंद्ध सभी बीएड कॉलेजों में खाली स्टेट-मैनेजमेंट कोटे की सीटें भरने के लिए लागू होगी। खाली सीटों और स्पॉट एडमिशन राउंड काउंसलिंग की जानकारी एचपीयू के admissions.hpushimla.in पोर्टल पर भी उपलब्ध है।बीएड कॉलेजों में स्टेट कोटे की 13 और मैनेजमेंट कोटे की 31 सीटें खाली हैं।

 स्टेट कोटे में ब्लूम्स कॉलेज मंडी में दो, दीन दयाल महेश पब्लिक कॉलेज मंडोली कांगड़ा में एक, हिमालयन कॉलेज ऑफ एजुकेशन पुंघ सुंदरनगर में एक, हिमाचल कॉलेज आफ एजुकेशन नालागढ़ में 2, सर्वपल्ली बीएड कॉलेज नोगली रामपुर में एक, वैष्णों कॉलेज नूरपुर कांगड़ा में 2, वेद शंकर लाल चंडी सोलन में दो, द्रोणाचार्य कॉलेज शाहपुर कांगड़ा में एक और कांता कॉलेज आफ एजुकेशन ज्वाली कांगड़ा में एक सीट खाली है। मैनेजमेंट कोटे में राजा का बाग कॉलेज नुरपुर, ब्लूम्स कॉलेज मंडी में एक- एक, हिम इंस्टीट्यूट पोंडा निचार किन्नौर व नीलम कॉलेज जोगेंद्रनगर में दो-दो, हिमाचल कॉलेज आफ एजुकेशन नालागढ़ में 15, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन हरी देवी घणाहट्टी, लक्ष्य इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन अर्की में तीन-तीन खाली हैं।



Post a Comment

0 Comments

प्रदेश में एक साल में पुलिस ने गाडिय़ों के चालान से सरकारी खजाना भर दिया