Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

विद्युत पेंशनरों ने लंबित मांगों और बोर्ड की वित्तीय स्थिति पर जताई चिंता

                              सरकार से मांगों को पूरा करने और बोर्ड में स्टाफ नियुक्त करने का आग्रह

बिलासपुर,ब्यूरो रिपोर्ट 

राज्य विद्युत परिषद पेंशनर वेलफेयर एसोसिएशन घुमारवीं इकाई की बैठक घुमारवीं के रैन बसेरा में आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता इकाई उपाध्यक्ष वरिष्ठ उप प्रधान सुखराम ने की। एसोसिएशन ने पेंशनरों की लंबित मांगों पर चर्चा और बिजली बोर्ड की वित्तीय स्थिति के लगातार बदतर होने पर चिंता व्यक्त की।

पेंशनरों कहा कि बोर्ड द्वारा उपभोक्ताओं को दी जाने वाली सेवाएं स्टाफ की कमी से बुरी तरह प्रभावित हो रही हैं। उन्होंने बोर्ड प्रबंधन वर्ग से व्यवस्था सुचारू रूप से चलाने के लिए अतिरिक्त स्टाफ की नियुक्ति करने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि संशोधित वेतनमान के बाद वेतन निर्धारण सत्यापन का कार्य पूरा न होने से 1 जनवरी 2016 के बाद सेवानिवृत्त पेंशनरों की की संशोधित पेंशन, ग्रेच्युटी लीव और इन केसमेंट नहीं मिला है।

उन्होंने सभी पेंशनरों की महंगाई भत्ते की तीन देय किश्तों का शीघ्र भुगतान करने का आग्रह किया। बैठक को संबोधित करते हुए वरिष्ठ उप प्रधान सुखराम ने बोर्ड प्रबंधन से नेशनल पे मैट्रिक्स में हो रही त्रुटियों का शीघ्र निराकरण करने, पे फिक्सेशन और पेंशन पुन: निर्धारण के लंबित पड़े मामलों का शीघ्र निपटारा करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि विभाग शीघ्र पेंशनरों की मेडिकल बिलों का भुगतान करें। साथ ही उन्होंने बोर्ड में खाली पड़े पदों को शीघ्र भरने का आग्रह किया।

इस मौके पर उप प्रधान रूपलाल शर्मा, महासचिव केएल शर्मा, दिलाराम राय, सेवानिवृत्ति अधिशासी अभियंता रमेश चंद शर्मा, सेवानिवृत्ति अधीक्षण अभियंता आरपी शर्मा, गंगा प्रसाद, अरविंद शर्मा, प्रेम सिंह, सतीश चंदेल, निक्का राम, बलदेव, रूपलाल, प्रकाश चंद, बिशन दास शामा, मनमोहन भट्टी, राजेश कुमार, इंद्र कुमार, लेखराम, मदनलाल, राम प्यारी, अमरनाथ, सोमदत्त और देव कृष्ण लखनपाल मौजूद रहे।


Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी