Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

हिमाचल में छह दिनों तक मौसम साफ

                                                   मैदानी क्षेत्रों में 11 जनवरी तक कोहरे का अलर्ट

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

हिमाचल प्रदेश में छह दिनों तक मौसम साफ रहने के आसार हैं। मैदानी व कम ऊंचाई वाले निचले कुछ क्षेत्रों में 11 जनवरी तक सुबह के समय घना कोहरा छाए रहने का येलो अलर्ट जारी हुआ है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार सभी भागों में 16 जनवरी तक मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है।

 वहीं,  अगले दो दिनों के दौरान मंडी, बिलासपुर, हमीरपुर, ऊना, कांगड़ा (नूरपुर), सिरमौर (पांवटा साहिब और धौलाकुआं) और सोलन (बद्दी और नालागढ़) में सुबह के समय अलग-अलग हिस्सों में घना कोहरा छाए रहने की संभावना है। बुधवार सुबह भी इन क्षेत्रों में कोहरे से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वाहन चालकों को सुबह के समय सावधानी से यात्रा करने की सलाह दी गई है। उधर, शिमला सहित आसपास भागों में मौसम साफ बना हुआ है। 

शिमला में न्यूनतम तापमान 3.5, सुंदरनगर 0.3, भुंतर -0.1, कल्पा -1.8, धर्मशाला  5.2, ऊना 3.4, नाहन 6.0, पालमपुर 2.5, सोलन 1.3, मनाली -0.8, कांगड़ा 3.3, मंडी 0.2, चंबा 3.4, डलहौजी 2.8, जुब्बड़हट्टी 5.4, कुफरी 0.8, कुकुमसेरी -9.4, नारकंडा -0.9, रिकांगपिओ 1.2, सेऊबाग 1.0, धौलाकुआं 6.9, बरठीं 2.3, समदो -6.4, पांवटा साहिब 8.0, सराहन 1.0 और  देहरागोपीपुर 8.0 में डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 

उधर, ऊना जिले में बुधवार को चार दिन बाद धूप खिली, जिससे लोगों ने राहत की सांस ली है। सुबह 11:00 बजे के बाद धूप खिलने से लोग भी घरों के बाहर निकले। सुबह के समय सर्द हवाओं से ठिठुरने के बाद लोगों ने दोपहर को धूप सेंकी। उधर, गेहूं की फसल को वर्तमान में सिचाई की बेहद आवश्यकता है। लेकिन मौसम की बेरुखी ने किसानों की परेशानी बढ़ा दी है। जानकारी के अनुसार जिले का न्यूनतम तापमान पांच डिग्री से ऊपर आ गया है। वहीं, अधिकतम तापमान भी करीब 15 डिग्री तक पहुंच चुका है। हालांकि, सुबह और शाम के समय धुंध का प्रकोप जारी है। 

किसान तरसेम लाल, बिहारी लाल, रविंद्र कुमार, आशीष सैनी ने बताया कि गेहूं की फसल को सिंचाई की बहुत आवश्कता है। कुछ दिन बादल छाए रहे, जिससे बारिश की आस थी। लेकिन धूप खिलने से उनकी चिंता बढ़ गई है। जिले में 60 प्रतिशत से अधिक गेहूं की फसल बारिश पर निर्भर रहती है लेकिन फसल को बीते दो माह से सिंचाई नहीं मिल पाई है।  मौसम विशेषज्ञ विनोद शर्मा ने बताया कि जिला में बारिश के आसार अभी नहीं है। सुबह और शाम कोहरा और धुंध अपना प्रकोप दिखाएगा। कहा कि दोपहर को धूप जरूर राहत देगी।


    


Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी