Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

विधानसभा क्षेत्र के तहत ढगवार में प्रदेश का पहला यूनिटी मॉल बनेगा

                                         एक छत के नीचे मिलेंगे कश्मीर से कन्याकुमारी तक के उत्पाद

धर्मशाला,रिपोर्ट नेहा धीमान

पर्यटन नगरी धर्मशाला में अब एक ही छत के नीचे कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक देशभर के विभिन्न राज्यों के मशहूर उत्पाद उपलब्ध होंगे। विधानसभा क्षेत्र के तहत ढगवार में प्रदेश का पहला यूनिटी मॉल बनेगा। केंद्र सरकार की महत्वपूर्ण योजना में शामिल यूनिटी मॉल के लिए धर्मशाला प्रशासन की ओर से जगह चिह्नित कर ली गई है। यहां करीब 70 कनाल भूमि का चयन यूनिटी मॉल के लिए किया गया है। 

अब इस भूमि को सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद हिमाचल प्रदेश उद्योग विभाग के नाम ट्रांसफर करने की प्रक्रिया शुरू हो गई। करीब 150 करोड़ रुपये की लागत से यहां पर यूनिटी मॉल का निर्माण होगा। इस बहुमंजिला यूनिटी मॉल में देश के सभी राज्यों के लिए अलग-अलग एम्पोरियम बनेंगे।2023 में केंद्र सरकार ने यूनिटी मॉल योजना को बजट में शामिल कर कहा था कि देश के विभिन्न राज्यों की राजधानियों, सबसे प्रमुख पर्यटन केंद्रों या वित्तीय राजधानियों में यूनिटी मॉल स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

 यूनिटी मॉल का गठन भारत के पारंपरिक वस्त्रों, हस्तशिल्प की जीवंतता और विविधता में निहित एक आकर्षक, आरामदायक खरीदारी अनुभव के लिए किया गया है। मॉल में एक ऑडिटोरियम, फूड स्टॉल और एक सुंदर बगीचा होगा, जो इसे स्थानीय लोगों और पर्यटकों के लिए आकर्षक गंतव्य बनाएगा।  मॉल में विभिन्न राज्यों के पारंपरिक वस्त्रों, कलात्मक हस्तशिल्प के एम्पोरियम बनेंगे। एम्पोरियम तमाम तरह के सामान बेचने वाला एक बड़ा रीटेल स्टोर होता है। यूनिटी मॉल विभिन्न स्थानों पर खुदरा, भोजन और मनोरंजन का मिश्रण पेश करेंगे। इसके बनने से विभिन्न राज्यों के पारंपरिक उत्पादों को नई पहचान मिलेगी। सांस्कृतिक झलक भी देखने को मिलेगी। 

कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण के मुताबिक जीआई टैग कृषि, प्राकृतिक या बनाए गए उत्पादों को दिया जाता है, जो एक विशिष्ट भौगोलिक क्षेत्र से संबंधित होते हैं, जिसकी वजह से उनमें कुछ खास तरह की विशेषताएं और गुण होते हैं। जीआई टैग इस बात की गारंटी देता है कि उत्पाद उस खास इलाके से आ रहा है। यह अंतरराष्ट्रीय बाजार में एक तरह का ट्रेडमार्क है।यूनिटी मॉल राज्य के अपने ओडीओपी (एक जिला, एक उत्पाद), जीआई उत्पादों और अन्य हस्तशिल्प उत्पादों के प्रचार और बिक्री पर ध्यान केंद्रित करेंगे। यूनिटी मॉल ओडीओपी एवं जीआई और हस्तशिल्प उत्पादों के लिए बनाए जा रहे हैं। यूनिटी मॉल से स्थानीय स्तर के ऐसे उत्पादों को बढ़ावा मिलेगा, जो खास होने के बाद भी प्लेटफॉर्म के अभाव में कुछ इलाकों तक ही सीमित रह गए हैं। यूनिटी मॉल स्थानीय अर्थव्यवस्थाओं को भी मजबूत करेंगे। स्थानीय संस्कृति का प्रदर्शन भी होगा। 




Post a Comment

0 Comments

दो दिन के लिए भारी बारिश का अलर्ट