Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

पूर्व जिला पार्षद भूपेंद्र सिंह ने इसे बेरोजगार युवाओं के साथ भद्दा मजाक बताया

            पार्टी से इस फैसले को  बदलने की मांग की है
मंडी, ब्यूरो रिपोर्ट
माकपा ने सुखविंद्र सिंह सुक्खू सरकार के स्कूलों और कॉलेजों में पीरियड आधारित गेस्ट टीचरों की भर्ती करने के निर्णय विरोध किया है। पार्टी से इस फैसले को  बदलने की मांग की है। पार्टी के सचिव व पूर्व जिला पार्षद भूपेंद्र सिंह ने इसे बेरोजगार युवाओं के साथ भद्दा मजाक बताया है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने चुनावों के समय पांच लाख युवाओं को रोजगार देने की गारंटी दी थी, लेकिन पिछले एक साल में नाममात्र का ही रोजगार ही युवाओं को मिला है।
अब दूसरे साल में स्थायी रोजगार के बजाय पीरियड के आधार पर 2600 गेस्ट शिक्षक लगाने की नीति लागू करने का युवा विरोधी फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि यह निर्णय केंद्र सरकार की नई शिक्षा नीति के आधार पर लिया गया है और कांग्रेस की राज्य सरकार भी केंद्र की मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों का ही अनुशरण कर रही है।
 उन्होंने कहा कि माकपा स्थायी आधार पर रोजगार देने की मांग करती है। साथ ही सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन योजना का भी लाभ मिल सके। पीरियड आधार पर शिक्षकों की भर्ती होने से शिक्षा की गुणवत्ता में तथा जवाबदेही में भी गिरावट आएगी।

Post a Comment

0 Comments

सीएम सुक्खू ने महिला सम्मान निधि योजना शुरू की