Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

विवि के पेंशनरों को विवि से अपने लाभ मिलने पर पेंशनर कई बार अपनी उठा चुके आवाज

                            सेवानिवृत्ति लाभ न दिए तो कृषि विवि के खिलाफ जाएंगे हाईकोर्ट : डॉ. फुल्ल

पालमपुर,रिपोर्ट नवीन शर्मा 

कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर की पेंशनरों ने विवि से सेवानिवृत्ति लाभ न मिलने से पर अब उच्च न्यायालय शिमला में अपना मुकदमा दायर करने का फैसला लिया है, ताकि उनको अपने लाभ मिल सकें। विवि के पेंशनरों को विवि से अपने लाभ मिलने पर पेंशनर कई बार अपनी आवाज उठा चुके हैं। बाबजूद, अब अपने लाभ न मिलने से गुस्साए विवि के पेंशनरों ने अब हाईकोर्ट जाने का मन बनाया है।

मंगलवार को फोरम की अध्यक्ष डॉ. सुशील कुमार फुल्ल की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह सर्वसम्मति से फैसला लिया गया है। डॉ. सुशील फुल्ल ने कहा कि विश्वविद्यालय ने पेंशनर्स को सचिवालय अलाउंस अभी तक नहीं दिया है। जबकि कार्यरत कर्मचारियों ने जल्द यह लाभ ले लिया है। पेंशन अलाउंस में रिवाइज्ड वृद्धि न होने के लिए भी पेंशनर्स खफा हैं।

जिसे देख याचिका दायर करने का फैसला लिया गया। विश्वविद्यालय ने सन 2016 से संशोधित वेतनमान के अनुसार वृद्धि तो दे दी है, लेकिन यह वृद्धि समुचित पे निर्धारण किए बिना मनमाने तौर पर दी है। पेंशनर्स चाहते हैं कि सभी पेंशनर्स के पीपीओ दोबारा इशू किए जाएं और एक नंबर क्रम से शुरू करके निपटा देने चाहिए।इसके अतिरिक्त वे यह भी चाहते हैं कि कुलपति को मेडिकल बिलों की अदायगी में देरी के लिए जिम्मेदार उन कर्मचारियों से निपटना चाहिए जो जानबूझकर बिलों को लटकाए रखते हैं। बैठक में यह निर्णय भी लिया कि सन 2016 के के बाद सेवानिवृत्त हुए पेंशनर्स के अन्य लाभ भी यूनिवर्सिटी को जल्द रिलीज कर देने चाहिए। इस मौके पर डॉ. सुदर्शना भटेडिया, इंजीनियर रणजोत सिंह गुलेरिया, मंसाराम और ठाकुर चतुर सिंह आदि मौजूद रहे।




Post a Comment

0 Comments

काले कपड़े पहन फीस वृद्धि के खिलाफ अभाविप का अनोखा प्रदर्शन