Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

राज्यपाल से कश्मीर के विद्यार्थियों ने की भेंट

                                               देश उनके विचारों और सपनों से ही प्रगति करता है

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने युवाओं से ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ की परिकल्पना को साकार करने के लिए अमृत काल में राष्ट्र निर्माण में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि किसी भी राष्ट्र के युवा उस देश की निधि एवं पहचान होते हैं। देश उनके विचारों और सपनों से ही प्रगति करता है।राज्यपाल ने आज राजभवन में पंचनाद अनुसंधान संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में मीडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन और इंडियन मीडिया सेंटर-हरियाणा द्वारा आयोजित सांस्कृतिक अध्ययन टूअर 2024 में भाग लेने वाले कश्मीरी विद्यार्थियों को संबोधित किया। इस अवसर पर लेडी गवर्नर जानकी शुक्ल भी उपस्थित रहीं।

राज्यपाल ने एसोसिएशन द्वारा सांस्कृतिक अध्ययन भ्रमण की पहल पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत एक है और हमें एक-दूसरे के सुख-दुःख में शामिल होना चाहिए। यह यात्रा इस उद्देश्य की पूर्ति करती है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक युवा को देश की एकता और अखण्डता को बनाए रखना चाहिए और इस प्रकार के कार्यक्रमों से यह भावना और सुदृढ़ होती है।

शुक्ल ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि कश्मीर के विद्यार्थी इस अध्ययन टूअर के माध्यम से भाईचारे का संदेश देते हुए जम्मू-कश्मीर के लोगों को यह एहसास करवा रहे हैं कि पूरा देश उनके साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि इस भ्रमण के दौरान कश्मीर से बड़ी संख्या में छात्राएं हिमाचल आई हैं, जो कश्मीर में हो रहे सकारात्मक परिवर्तन को दर्शाता है। वहां पंचायत स्तर पर चुनावों के उपरान्त लोगों को अपने अधिकारों के बारे में पता चला है। उन्होंने कहा कि कश्मीर की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत है। हिमाचल और जम्मू-कश्मीर पर्यटन की दृष्टि से भी दुनियाभर से लोगों को आकर्षित करते हैं। यह यात्रा कश्मीर और हिमाचल प्रदेश की समृद्ध संस्कृतियों को जोड़ती है जिससे यह अवसर हम सभी के लिए और भी महत्वपूर्ण एवं समृद्ध अनुभव का प्रतीक बन जाता है। 

हमारी विविधता में एकरूपता के दर्शन होते हैं और यही हमारी ताकत है। भौगोलिक सीमाओं से परे इस प्रकार के सांस्कृतिक आदान-प्रदान कार्यक्रम एकता की भावना को मजबूत करते हैं।  राज्यपाल ने कहा कि इस अमृत काल में हर व्यक्ति को विकसित भारत के निर्माण में अपना बहुमूल्य योगदान देना चाहिए।इस अवसर पर राज्यपाल ने भ्रमण यात्रा की टीम लीडर राबिया वानी, यात्रा प्रमुख बुरहान भट्ट, पख्तून समुदाय से ग्रुप लीडर जीनत और मीडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन हरियाणा की महासचिव मीनाक्षी को सम्मानित भी किया।



Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी