Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

फतेहपुर के माननीय विधायक की उपस्थिति में

                                               नाडा यंग इंडिया का पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित 

फतेहपुर,रिपोर्ट अश्वनी चौधरी

हिमाचल कांगडा स्थति फतेहपुर रेस्ट हाऊस में नाडा यंग इंडिया के तत्वाधान में आज पुरस्कार वितरण समारोह एवम संगोष्ठी का आयोजन हुआ। इस अवसर पर फतेहपुर के माननीय विधायक भवानी सिंह पठानिया मुख्य अतिथि थे। इस कार्यक्रम में 28 विद्यालयों के 38 प्रतिनिधियों ने शिरकत की। कार्यक्रम में माननीय अतिथि ने में विद्यालयों द्वारा आयोजित तंबाकू निषेध रैलियों के सम्मान में सर्टिफिकेट वितरित किए।इस अवसर पर पठानिया जी ने कहा कि तंबाकू उत्पादों पर टैक्स लगना और टैक्स बढ़ाना इसके उपयोग एवम प्रसार में काफी हद तक कमी लाएगा। अतः तंबाकू मुक्त युवा अभियान में तंबाकू के खिलाफ. हर युवा की आवाज को बुलंद करनी चाहिए

नाडा यंग इंडिया हिमाचल के संयोजक मंगल सिंह ने इस अवसर पर नशीले दवाओं एवम प्रोडक्ट्स के हानिकारक प्रभावों पर ध्यान दिलाया। इस खतरे का सामना करने हेतु सरकारी प्रयासों एवम संबंधित तथ्यों और आंकड़ों पर चर्चा की। तम्बाकू के प्रभावों की चर्चा करते हुए कैंसर दिल की बीमारी, स्ट्रोक एवम फेफड़ों की बीमारी सहित मधुमेह जैसी बीमारियों का जिक्र किया ।नाडा इंडिया के रजत ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में तंबाकू नियंत्रण संबंधी कानूनों को अधिक मजबूती देने की दिशा में ऐसे कार्यक्रम महत्त्वपूर्ण हैं। हिमाचल में तंबाकू नियंत्रण अभियान को मजबूती प्रदान करने की दिशा में ऐसे प्रयास भविष्य में भी होने चाहिए।

कार्यक्रम के संयोजक ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा हिमाचल प्रदेश में कराए गए 2013 सर्वे के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि राज्य में तम्बाकू सेवन कर प्रतिशत 16.1 है। जबकि धुम्रपान की व्यापकता 14.2 प्रतिशत है। धुम्रपान रहित तम्बाकू की व्यापकता देश में हालांकि 3.1 प्रतिशत के साथ सबसे कम है। वैश्विक वयस्क तम्बाकू सेवन द्वितीय सर्वे में पहले सर्वे की तुलना में आंकड़ों में तब्दीली आई है। सेकेंड हैंड धुएं के संपर्क से इस समय राज्य में 32.5 प्रतिशत लोग घरों में प्रभावित हैं। इस अवसर के राजकीय विद्यालय पराल के प्राचार्य ने कहा कि कोटपा अधिनियम की जानकारी आमजन में पहले से बेहतर है। किंतु स्वास्थ्य को लेकर हिमाचल में ज़मीनी स्तर पर बहुत किया जाना शेष है। स्वास्थ किसी भी देश की बड़ी पूंजी होती है। युवा शक्ति पूंजी होती है। नाडा यंग इंडिया युवाओं के महत्व को पहचानता है। नाडा यंग इंडिया स्वास्थ को राष्ट्रीय प्राथमिकता बनाने का आह्वान करता है। 




Post a Comment

0 Comments

प्रदेश में एक साल में पुलिस ने गाडिय़ों के चालान से सरकारी खजाना भर दिया