Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

हिमाचल के सात जिलों में दो दिन भरी बारिश-बर्फबारी

        हिमाचल प्रदेश के सात जिलों के लिए दो दिन का भारी बारिश-बर्फबारी का ऑरेंज अलर्ट, जानें मौसम पूर्वानुमान

शिमला, ब्यूरो रिपोर्ट 

प्रदेश के सात जिलों में भारी बारिश-बर्फबारी का दो दिन का अलर्ट जारी किया गया है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से मौसम में यह परिवर्तन होने का अनुमान है। हिमाचल प्रदेश के सात जिलों में दो दिनों तक भारी बारिश और बर्फबारी का अलर्ट जारी किया गया है। 


पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से मौसम में यह परिवर्तन होने का अनुमान है। 1 मार्च से 3 मार्च तक राज्य में बारिश-बर्फबारी होने का अनुमान मौसम विज्ञान केंद्र शिमला से है। 4 व 5 मार्च को मौसम मध्य व उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में खराब रह सकता है। 6 मार्च को भी कई स्थानों पर बारिश और बर्फबारी होने की उम्मीद है। 


1 मार्च को मौसम विभाग ने चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, मंडी और शिमला जिले में भारी बारिश-बर्फबारी का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। 2 मार्च को चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, किन्नौर और लाहौल-स्पीति जिलों में भारी बारिश और बर्फबारी का अलर्ट जारी किया गया है। आज शिमला और आसपास के क्षेत्रों में धूप खिलने के साथ हल्के बादल छाए हुए हैं। 


 

11 दिन बाद, जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति की दूर्गम घाटी मयाड़ में फिर से बिजली मिली है। बिजली बोर्ड के कर्मचारियों ने क्षतिग्रस्त बिजली लाइनों को फिर से चालू करके घाटी के सैकड़ों लोगों को बचाया है, जो बर्फ में दो से चार फुट गिर गए हैं। भारी बर्फबारी से घाटी में 136 बिजली के ट्रांसफार्मर बंद हो गए। 


बिजली बोर्ड के कर्मचारियों ने न्यूनतम तापमान में बिजली के खंभों में चढ़कर लोगों को राहत दी है। वहीं, राज्य में 200 से अधिक सड़कें अभी भी बंद हैं। उधर, मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि लाहौल घाटी और जिला कुल्लू में अगले तीन दिनों तक मौसम खराब रहने की संभावना है। यही कारण है कि दोनों जिला प्रशासनों ने आम जनता और सैलानियों को बर्फ वाले क्षेत्रों की तरफ न जाने की चेतावनी दी है।

Post a Comment

0 Comments

सतलुज दरिया के तेज बहाव में एक बच्ची हुई दुर्घटना की शिकार