Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

हिमाचल में वन कर्मियों की चुनाव में ड्यूटी नहीं

                                                   सैटेलाइट से रखी जा रही हवा के रुख पर नजर

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

हिमाचल में जंगलों में आग की घटनाओं के मद्देनजर चुनावों में वन विभाग के फील्ड कर्मचारियों की ड्यूटी नहीं लगाई गई है।आग लगाने वाले को पांच हजार जुर्माना, दो साल सजा का प्रावधानप्रधान मुख्य वन अरण्यपाल राजीव कुमार ने बताया कि कई जगहों पर लोग जंगलों में खुद आग लगा रहे हैं। यह गैर कानूनी है। रिजर्व फॉरेस्ट में आग लगाने पर सेक्शन 26 और प्रोटेक्टिड फॉरेस्ट में आग लगाने पर सेक्शन 32, 33 में 5,000 रुपये तक जुर्माने और 2 साल तक की कैद का प्रावधान है। 

राजीव कुमार ने बताया कि जंगलों में ऐसी जगहों पर आग लगी है जहां पहुंचना वन कर्मियों के लिए मुश्किल हो रहा है। बारिश से ऐसे स्थानों पर आग बुझाने में मदद मिलेगी।हिमाचल में बढ़ती जंगलों में आग की घटनाओं पर काबू पाने के लिए वन विभाग के कर्मी फील्ड में डटे हैं। गर्मियों में जंगलों में आग की घटनाओं के मद्देनजर चुनावों में वन विभाग के फील्ड कर्मचारियों की ड्यूटी नहीं लगाई गई है। विभाग आग की घटनाएं रोकने के लिए सैटेलाइट की भी मदद ले रहा है। सैटेलाइट की मदद से हवा का रुख जांचा जा रहा है। इसके अलावा जंगल की आग के लिए संवेदनशील चील के जंगल की लोकेशन, तापमान की स्थिति और प्राकृतिक आवास का भी सैटेलाइट की मदद से आकलन किया जा रहा है।





Post a Comment

0 Comments

पालमपुर की बेटी प्रणवी सूद ने किया जिले का नाम गर्व से ऊँचा