Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

बीआरओ की डाक्यूमेंट्री में दर्रा बहाल करने में झलक रही जवानों की कर्मठता

                                                        55 फीट बर्फ की दीवारों से गुजरे वाहन

रोहतांग,ब्यूरो रिपोर्ट 

देशी-विदेशी पर्यटकों की पहली पसंद रोहतांग दर्रा पर्यटकों के लिए बहाल हो गया है। दर्रा तक बर्फ हटाने के कार्य में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। अब रोमांच का सफर शुरू हो गया है। 55 फीट बर्फ की दीवारों से होकर वाहन रोहतांग की ओर निकले तो पर्यटक झूम उठे।

 रोहतांग दर्रा में भी 15 फीट से अधिक बर्फ की मोटी परत जमी है। बीआरओ की ओर से तैयार डाॅक्यूमेंट्री में रोहतांग बहाली में जवानों की कर्मठता स्पष्ट झलक रही है।दर्रा बहाल करने में बीआरओ का बर्फबारी और माइनस डिग्री तापमान में अभियान जारी रहा। बार-बार बर्फबारी होती रही और बीआरओ बर्फ हटाता रहा। बीआरओ ने 15 मई को दर्रा बहाल करने का लक्ष्य रखा था, लेकिन बर्फबारी और हिमखंड गिरने के कारण यातायात बहाल करने में देरी हुई। जगह-जगह गिरे लगभग आठ हिमखंडों को भी काटना पड़ा।हिमखंडों की ऊंचाई 15 से 35 फीट थी। राहनीनाला के समीप तो 55 फीट ऊंचे हिमखंड को काटकर सड़क खोली गई है। बीआरओ के अधिकारी ने बताया कि रोहतांग बहाली में बीआरओ की मशीनरियां नहीं रुकीं। बीआरओ ने बर्फ हटाने के कार्य की एक डाॅक्यूमेंट्री तैयार की है। इसमें बर्फ हटाने से लेकर रोहतांग दर्रा फतह करने तक का सफर दिखाया गया है।






Post a Comment

0 Comments

आखिर क्यों राशन डिपुओं से हुई चीनी गायब