Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

बारिश बिना सूख सकते है पेयजल स्रोत

                                                  जिला मंडी में अभी तक 1468 पेयजल योजनाएं हैं 

मंडी,ब्यूरो रिपोर्ट 

 बारिश न होने की सूरत पर जिला मंडी में आगामी दिनों में पेयजल की समस्या बढ़ सकती है। जलशक्ति विभाग के मुताबिक अगर एक सप्ताह के भीतर बारिश नहीं हुई तो पानी सूखने से पेयजल योजनाओं में पानी की कमी आ सकती है। इससे जिला में पानी की आपूर्ति में कटौती भी की जा सकती है।

जिला मंडी में अभी तक 1468 पेयजल योजनाएं हैं और वर्तमान में सभी से उपभोक्ताओं को पानी की आपूर्ति की जा रही है। जल शक्ति विभाग के मुताबिक बीते सप्ताह शनिवार तक जिला के मंडलों से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक अभी तक योजनाओं में अधिक सूखे का प्रभाव नहीं है। मगर इस सप्ताह बारिश नहीं हुई है सूखे का प्रभाव देखने को मिल सकता है।

जलशक्ति विभाग ने उपभोक्ताओं को सचेत करते हुए कहा कि वह पानी का प्रयोग सोच समझकर करें और पानी को बचाने में सहयोग करें। ब्यर्थ में पानी न बहाएं और उसे संरक्षित कर लें, ताकि जरूरत पड़ने पर उसका इस्तेमाल किया जा सके।बता दें कि गर्मी के चलते अभी तक कई स्थानों पर पानी की दिक्कतें आना शुरू हो गई हैं। इनमें मंडी, सरकाघाट, बल्ह, नाचन और सिराज आदि क्षेत्र के कुछ गांवों में पेयजल समस्या पेश आ रही है। अगर बारिश न हुई तो आने वाले दिनों में समस्या विकराल हो सकती है।आने वाले एक सप्ताह में बारिश नहीं होती है तो पानी के स्रोत सूख सकते हैं। इससे पानी की बहुत कमी आ सकती है। इससे पेयजल आपूर्ति में भी कटौती की जा सकती है।





Post a Comment

0 Comments

पालमपुर की बेटी प्रणवी सूद ने किया जिले का नाम गर्व से ऊँचा