Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

नाशपाती के तुड़ान ने पकड़ा जोर

                                                               अब बंदरोल में भी पहुंची फसल

कुल्लू,ब्यूरो रिपोर्ट 

नाशपाती सीजन की शुरुआत हो चुकी है। भुंतर और निचले क्षेत्रों में नाशपाती के तुड़ान ने जोर पकड़ लिया है। जून में कम हुई बारिश के चलते इस बार नाशपाती का आकार अच्छा नहीं बन पाया है। फिर भी बागवानों ने नाशपाती का तुड़ान शुरू कर दिया है। आने वाले दिनों में मंडियों में नाशपाती की ज्यादा खेप आएगी।

अभी तक भुंतर सब्जी मंडी में ही नाशपाती आ रही थी। अब बंदरोल सब्जी मंडी में भी नाशपाती पहुंचना शुरू हो गई है। जिले की सीमा के साथ लगती टकोली सब्जी मंडी में पिछले कई दिनों से नाशपाती आ रही है। नाशपाती 90 से 100 रुपये प्रतिकिलो तक बिक रही है। नाशपाती के दाम बेहतर रहने से बागवानों को फायदा मिल रहा है। बागवानों को सीजन के दौरान बेहतर दाम मिलने की उम्मीद है।पिछले साल के मुकाबले इस बार नाशपाती की फसल ज्यादा है। वर्ष 2023 में नाशपाती का 2,624 मीट्रिक टन उत्पादन हुआ था जबकि वर्ष 2024 में कुल्लू जिले में 3,823 मीट्रिक टन उत्पादन होने की उम्मीद है। 

बागवान गगन, मोहर सिंह और दिले राम ने कहा कि नाशपाती के तुड़ान ने अब जोर पकड़ लिया है। कुछ बागवान नाशपाती को कार्टन में भरने के बाद पंजाब की मंडियों में भेज रहे हैं। नाशपाती की देशभर की मंडियों में खूब डिमांड रहती है।बंदरोल सब्जी मंडी की शॉप नंबर 35बी के आढ़ती संजय ठाकुर ने कहा कि सोमवार को ए ग्रेड नाशपाती 90 से 100 रुपये प्रतिकिलो बिकी।फल एवं सब्जी उत्पादक संगठन कुल्लू सदर के महासचिव सुनील राणा ने कहा कि बागवानों को उत्पादों के बेहतर दाम मिले, इसके लिए प्रयास किए जाएंगे।




Post a Comment

0 Comments

 कई भागों में 21 जुलाई तक मानसून की बारिश जारी