Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

रथयात्रा के बीच मंदिर का सेवादार निकला कोरोना पॉजिटिव

नई दिल्ली विशेष संवाददाता
हर वर्ष की तरह इस बार भी भगवान जगन्नाथ की ऐतिहासिक रथयात्रा निकाली जा रही है, लेकिन कड़ी शर्तो के साथ। सुप्रीम कोर्ट ने कल कुछ प्रतिबंधों के साथ कोरोना वायरस महामारी के बीच वार्षिक रथ यात्रा को आयोजित करने की अनुमति दी है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक 500 से अधिक लोगों को रथ खींचने की अनुमति नहीं दी जाएगी। रथयात्रा के दौरान पुरी रथ यात्रा शहर में सोमवार की रात आठ बजे से कर्फ्यू लागू रहेगा।


इस दौरान लोग अपने घरों में ही रहंगे। रथयात्रा की से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी। जगन्नाथ मंदिर के एक सेवादार का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद रथयात्रा में शामिल होन वाले सभी लोगों का कोरोना टेस्ट कराया गया था। कोरोना संक्रमित सेवादार को रथयात्रा में शामिल होने नहीं दिया गया है। रथ यात्रा के पावन अवसर पर सभी देशवासियों, विशेष रूप से ओडिशा में प्रभु जगन्नाथ के श्रद्धालुओं को बधाई।

भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा के पावन-पुनीत अवसर पर आप सभी को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। मेरी कामना है कि श्रद्धा और भक्ति से भरी यह यात्रा देशवासियों के जीवन में सुख, समृद्धि, सौभाग्य और आरोग्य लेकर आए। भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा के पावन-पुनीत अवसर पर आप सभी को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। मेरी कामना है कि श्रद्धा और भक्ति से भरी यह यात्रा देशवासियों के जीवन में सुख, समृद्धि, सौभाग्य और आरोग्य लेकर आए।

अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा शुरू हो गई है। कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए गुजरात हाई कोर्ट ने रथयात्रा पर रोक का आदेश दिया था, जिसके बाद मंदिर परिसर के अंदर ही रथयात्रा निकालने का फैसला किया गया है। इस बार रथयात्रा मंदिर परिसर में ही सात फेरे लगाएगी। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी रथयात्रा के लिए सुबह अहमदाबाद के श्रीजगन्नाथजी मंदिर परिसर में पहुंचे।

गृहमंत्री अमित शाह हर साल भगवान जगन्नाथ की मंगला आरती में सुबह चार बजे शामिल होते हैं। वह इस बार भी सपरिवार आरती में शामिल हुए। सीएम रुपाणी ने कहा कि उच्च न्यायालय में कल देर रात तक रथयात्रा को लेकर सुनवाई की, लेकिन कोरोना वायरस के कारण रथयात्रा की अनुमति नहीं मिल सकी। मैं मंदिर के ट्रस्टी और महंत को स्थिति को समझने और मंदिर परिसर के अंदर रथ यात्रा की व्यवस्था करने के लिए धन्यवाद देता हूं।

वही, पुरी के जगन्नाथ मंदिर में रथयात्रा के लिए तैयारियां चल रही हैं। रथयात्रा में शामिल होने वाले सभी लोगों का कोरोना टेस्ट होगा और नेगेटिव पाए जाने वालों को ही रथयात्रा में आने की इजाजत होगी। शहर में प्रवेश के सारे प्वाइंट जैसे एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और बस अड्डे बंद रहेंगे।

Post a Comment

0 Comments

ट्रक चला रहे व्य​क्ति के साथ अचानक घटी यह घटना