Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

देव धुनों के साथ निकली लघु जलेब, महाशिवरात्रि के कारज शुरू

देव धुनों के साथ निकली लघु जलेब, महाशिवरात्रि के कारज शुरू


माधोराय और टारना माता मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद शाही अंदाज में लघु जलेब निकाली गई।



  • मंडी,रिपोर्ट
    छोटी काशी में महाशिवरात्रि महोत्सव के कारज शुरू हो गए हैं। वीरवार को माधोराय और टारना माता मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद शाही अंदाज में लघु जलेब निकाली गई। देव ध्वनियों के बीच जलेब बाबा भूतनाथ मंदिर पहुंची। यहां मेला कमेटी अध्यक्ष और डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने विधि विधान के साथ महाशिवरात्रि पर्व में शिरकत करने के लिए माधोराय का न्यूंद्रा (न्योता) बाबा भूतनाथ को अर्पित किया गया।




बैंड की धुन पर पुलिस और होमगार्ड की टुकड़ी जलेब में शामिल हुई। पुलिस के घुड़सवार आगे चल रहे थे। रियासतकालीन देवता शुकदेव ऋषि का रथ भी ढोल नगाड़ों के साथ चौहट्टा बाजार में पहुंचा। इससे पूर्व सुबह आठ बजे राजदेवता माधोराय के मंदिर यज्ञ करवाया गया। इसके बाद मेला कमेटी के अध्यक्ष ऋग्वेद ठाकुर ने टारना जाकर बड़ादेव कमरुनाग की पूजा की। इधर, बड़ा देव कमरुनाग से आशीर्वाद लेने के लिए टारना मंदिर में भारी संख्या में श्रद्धालु उमड़े।

शाही अंदाज में निकलेगी राजदेवता माधोराय की जलेब


छोटी काशी मंडी में अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि मेले का शुभारंभ शुक्रवार को होगा। दोपहर दो बजे राजदेवता माधोराय की अगुवाई में शाही अंदाज में पहली जलेब (शोभायात्रा) निकलेगी। परंपरा का निर्वहन करते हुए जलेब में देवी-देवताओं के रथ माधोराय की पालकी के आगे पीछे चलेंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर देव माधोराय और बाबा भूतनाथ की पूजा-अर्चना कर जलेब में शिरकत करेंगे। जलेब में चुनिंदा देवी-देवता ही साथ चलेंगे। इससे पहले मुख्यमंत्री और अन्य अतिथियों को मेला कमेटी पगड़ी पहनाकर सम्मानित करेगी।

इस बार शिवरात्रि के लिए एक जैसे मास्क तैयार किए गए हैं। करीब तीन बजे जलेब पड्डल मैदान में पहुंचेंगी। उसके बाद मेले का विधिवत शुभारंभ होगा। रात को पड्डल कला केंद्र में अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव पर होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ होगा। पहली शाम हिमाचली गायक सुनील मस्ती और एसी भारद्वाज के नाम रहेगी। इस दौरान सीएम मंडी वासियों को करोड़ों की सौगात देंगे। उधर, वीरवार को 150 देवी-देवता मंडी पहुंचे। शिवरात्रि में माहौल देवमयी दिखा। देव आस्था से सराबोर देव ध्वनियों से छोटी काशी गुंजायमान रही। मेले का समापन 21 को राज्यपाल आचार्य बंडारू दत्तात्रेय करेंगे।

साभार दैनिक अमर उजाला

Post a Comment

0 Comments