Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

प्रदेश में सीएनजी के प्रयोग से घटेगा पर्यावरण प्रदूषण: डॉ. परूथी


  • सिरमौर,रिपोर्ट
    पांवटा साहिब-शिलाई एनएच पर गोंदपुर-तारुवाला में जिले का पहला सीएनजी पंप शुरू हो गया है। यह दूसरे ईंधन जैसे पेट्रोल, डीजल की तुलना में सस्ती मिलती है, जिससे कोई भी व्यक्ति मोटर साइकिल के खर्च पर कार में अपने परिवार के साथ सफर कर सकते हैं। बुधवार को जिलाधीश सिरमौर डॉ. आरके परूथी ने जनपद के प्रथम सीएनजी पंप पांवटा का शुभारंभ किया।




उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल से प्रदूषण होता है लेकिन प्रदेश में सीएनजी के ज्यादा प्रयोग बढ़ने से प्रदूषण भी कम होगा। हिमाचल के 7 प्रदूषण वाले शहरों में पांवटा साहिब और कालाअंब भी शामिल हैं।

इस दौरान सीएनजी के डीजीएम शिमला अजय भारद्वाज, सेल्स ऑफिसर आयुष कुमार सिंह ने बताया कि सीएनजी एक कंप्रेस्ड नेचुरल गैस है। इसका सबसे बड़ा फायदा इसका सस्ता होना है। यह दूसरे ईंधन जैसे पेट्रोल, डीजल की तुलना में सस्ता है। सीएनजी से मिलने वाला माइलेज पेट्रोल डीजल की तुलना में अधिक होता है। इससे निकलने वाले धुएं से पर्यावरण को किसी भी नुकसान नहीं पहुंचता है।
आरटीओ सिरमौर सोना चौहान ने कहा कि सीएनजी पर्यावरण हितैषी है। इससे कार्बन उत्सर्जन न के बराबर होता है। पर्यावरण प्रदूषित कम होता है जिससे सांस और दमा के रोगियों की संख्या में कमी आएगी। इस गैस के उपयोग से इंजन की आवाज कम हो जाती है जिससे बहुत कम ध्वनि प्रदूषण होता है।
पांवटा साहिब सीएनजी स्टेशन संचालक दीपक गुप्ता ने कहा कि इस वक्त पांवटा में सीएनजी 61 रुपये प्रति किलोग्राम है। सीएनजी वाहन के इंजन की क्षमता को बढ़ाता है। शुरूआत में इसको फिट करवाने के लिए कुछ खर्च जरूर आएगा लेकिन बाद में इसका खर्चा काफी कम है। सीएनजी की प्रत्येक गाड़ी औसतन 30-35 किलोमीटर प्रति किलोग्राम तक ऐवरेज देती है।

इस अवसर पर एसपी सिरमौर डॉ. खुशहाल चंद शर्मा, तहसीलदार कपिल तोमर, डीएफओ कुनाल अंग्रीश, हिमाचल चैंबर्स ऑफ कॉमर्स अध्यक्ष सतीश गोयल, सिरमौर ट्रक यूनियन अध्यक्ष राजेंद्र सिंह नारंग, डीएस ठाकुर, चरणजीत सिंह, पूर्व नप अध्यक्ष संजय सिंघल, दीपक गुप्ता, शीतल गुप्ता, आयुष कुमार, मामराज ठाकुर, बीडीओ गौरव धीमान, उद्यमी जगदीश तोमर, शमेश्वर शर्मा, अमित गुप्ता, मीतु गुप्ता और विशाल गुप्ता आदि मौजूद रहे।
साभार अमर उजाला।

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख