Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

त्रिशला रानी और लाला बनारसी दास की स्मृति में शुरू हुआ अन्न क्षेत्र

महापुरुषों ने हमें मानवता का संदेश दिया- राकेश विज



  • हरिद्वार,रिपोर्ट
    समाजसेवी और एशिया पैलेस पालमपुर हिमाचल प्रदेश के निवासी तथा रोटरी क्लब पालमपुर के निर्वाचित अध्यक्ष राकेश विज ने बताया कि महाकुंभ के अवसर पर श्रद्धालुओं की सुविधार्थ संत बाहुल्य क्षेत्र सप्त ऋषि आश्रम भूपतवाला हरिद्वार में अन्न क्षेत्र का शुभारंभ नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी के कर कमलों के द्वारा किया गया हैं यह अन्न क्षेत्र पूरे कुंभ काल तक चलेगा।




उन्होंने बताया कि इस अन्न क्षेत्र का आयोजन उन्होंने अपनी माताजी श्रीमती त्रिशला रानी और पिता लाला बनारसी दास जी की स्मृति में कराया है इसके अलावा सिंह सभा गुरुद्वारा लालतारो पुल में 7 मार्च से रोजाना लंगर का आयोजन किया जा रहा है राकेश विज ने जानकारी दी की 14 मार्च से इच्छाधारी नाग मंदिर बीएचएल हरिद्वार में भी अन्न क्षेत्र शुरू कर दिया गया है। लाला बनारसी दास जी पंजाब के धारीवाल में गुरदासपुर जिले में नगरपालिका के 30 वर्ष तक अध्यक्ष रहे और वे अपनी ईमानदारी के लिए प्रसिद्ध थे और उन्होंने नगरपालिका से एक भी रुपया पारिश्रमिक के रूप में नहीं लिया और वे कई शिक्षण संस्थाओं से जुड़े रहे।
इस अवसर पर सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा कि विज परिवार ने कुंभ के अवसर पर अन्न क्षेत्र का आयोजन कर मानवता का परिचय दिया है क्योंकि हमारे जीवन में मानवता का सबसे ज्यादा महत्व है और महापुरुषों ने हमें मानव सेवा का रास्ता दिखाया है
समाजसेवी राकेश विज ने कहा कि मानवता सबसे बड़ी पूजा है मानव धर्म ही हमें जोड़ता है और अन्नदान की परंपरा हमारी वैदिक परंपरा है उन्होंने कहा कि गुरु नानक देव जी, गुरु अमरदास जी , गुरु गोविंद सिंह जी , शहीद भगत सिंह, बाबा बंदा सिंह बहादुर जी, स्वामी विवेकानंद , महामना मदन मोहन , त्याग मूर्ति गोस्वामी गणेश दत्त जी ने हमें मानवता की सेवा करने का संदेश दिया है उन्होंने बताया कि वे हरिद्वार में सती घाट में निर्माणाधीन गुरु अमरदास गुरुद्वारे और कनखल में एस एम एस डी इंटर कॉलेज में पंडित अमर नाथ जी की स्मृति में बनने वाले पुस्तकालय में भी अपना सहयोग प्रदान करेंगे उन्होंने कहा कि महापुरुषों के रास्ते पर चलकर ही हम देश को समृद्ध कर सकते हैं।
इस अवसर पर सप्त ऋषि आश्रम के प्रशासक डॉ आर बी विज, प्रबंधक विनोद सैनी, स्वामी मां पूनानंद गिरी महाराज अल्मोड़ा और डॉक्टर रोहित मुंबई आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख