Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

‌पालमपुर के पूर्व विधायक प्रवीन कुमार ने लोक निर्माण विभाग के इंजीनियर इन चीफ को लिख कर कहा यह कैसा कार्य विभाजन "केबल आधा किलोमीटर सड़क ओर तीन अधिशासी अभियंता बने हैं मालिक

पालमपुर, रिपोर्ट
अपने जन सम्पर्क अभियान के दौरान पूर्व विधायक प्रवीन कुमार  का पाहडा बाजार के व्यापारियों ने वाजार की सडक की दुर्दशा की ओर ध्यान आकर्षित किया । इस पर पूर्व विधायक ने पूरी जानकारी हासिल करने के उपरांत प्रमुख अभियन्ता को पत्र लिखकर इस क्षेत्र की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए कहा है कि पालमपुर विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत पाहड़ा पालमपुर बाजार के वाद दूसरा बड़ा ग्रामीण बाजार है । यहाँ स्थिति बड़ी हास्यास्पद है। एक तरफ इसी बाजार की सीमा के साथ लगते राज मार्ग टण्डरू पुल से हिम पब्लिक स्कूल तक अनुमानतः दो सो मीटर सड़क पर लोक निर्माण विभाग मंडल बैजनाथ ने तारकोल बिछाई है। 
उसी के साथ आगे इसी रोड पर तकरीबन 250 मीटर के ही करीब लोक निर्माण विभाग मंडल भवारना ने पेबल टायल एवं कंक्रीट सड़क का निर्माण किया है। जबकि प्राप्त जानकारी के मुताबिक मुख्य बाजार पाहडा की सडक की दुर्दशा को सुधारने का जिम्मा लोक निर्माण विभाग मण्डल पालमपुर को दिया गया है । पूर्व विधायक ने प्रमुख अभियन्ता का ध्यान इस ओर भी आकर्षित करते हुए अपने पत्र में लिखा है कि बतौर विधायक इस इलाके की सड़कों के सुधार मुरम्मत व विस्तार के दृष्टिगत कार्य विभाजन करके बाकायदा इसी इलाके के क्षेत्राधिकार में घाड स्थित कनिष्ठ अभियंता का स्वतंत्र हैड क्वार्टर स्थापित किया गया था । 
यहां तक की जनता एवं कनिष्ठ अभियन्ता की सुख सुविधा के लिए कनिष्ठ अभियन्ता के कार्यालय व स्टोर भवन का शिलान्यास भी कर दिया गया था । आज एक दशक से ऊपर समय हो गया इस भवन का यह शिलान्यास विभाग की अनदेखी एवं बेरुखी पर आंसू बहा रहा है। पूर्व विधायक ने प्रमुख अभियन्ता से आग्रह किया है कि टण्डरू ब्रिज से पाहडा चौक वाया पाहड़ा बाजार इस राज मार्ग जिसकी कि कुल लंबाई 500 - 600 मीटर बनती है इसे  लोक निर्माण विभाग मण्डल पालमपुर के साथ जोडने की अधिसूचना जारी करते हुए शीघ्र पालमपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत सबसे बड़े इस देहाती अर्थात ग्रामीण बाजार पाहडा की सड़क की दुर्दशा को सुधारने के आदेश जारी करने की कृपा करें ।

Post a Comment

0 Comments

सतलुज दरिया के तेज बहाव में एक बच्ची हुई दुर्घटना की शिकार