Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

अंतर्राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग वर्ल्ड कप प्रतियोगिता में भारतीय टीम की ओर से हिमाचल प्रदेश के एकमात्र खिलाड़ी इंस्ट्रक्टर गिमनर सिंह का हुआ चयन

कुल्लू,ओम प्रकाश ठाकुर
अंतर्राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग वर्ल्ड कप प्रतियोगिता में  भारतीय टीम की ओर से हिमाचल प्रदेश के एकमात्र खिलाड़ी इंस्ट्रक्टर गिमनर सिंह का चयन हुआ है।
पैराग्लाइडिंग वर्ल्ड कप प्रतियोगिता का आयोजन थाईलैंड देश  के नोंगखाई क्षेत्र में 9 फरवरी 2023 से 20 फरवरी 2023 तक किया जाएगा। भारतीय टीम की ओर से भारतीय दल में केवल तीन खिलाड़ी वर्ल्ड कप प्रतियोगिता में भाग लेंगे जिसमें दूसरा खिलाड़ी लद्दाख से वह तीसरा खिलाड़ी सिक्किम से चयनित हुआ है। पहले खिलाड़ी गिमनर सिंह वर्तमान में अटल बिहारी वाजपेई पर्वतारोहण व सहवध खेल संस्थान में जल, थल ,नव ब  सकिंइग में अनुदेशक के पद पर कार्य कर रहे हैं। बता दे कि गिमनर सिंह पहले भी कई बार अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में भाग लेकर प्रदेश व देश का मान बढ़ा चुके हैं, पिछले वर्ष दिसंबर माह में आयोजित एशियन पैराग्लाइडिंग चैंपियनशिप गिमनर सिंह ने हिमाचल टीम से भाग लेकर ब्रोंज मेडल जीता था। 

अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी ने बताया की इस अंतरराष्ट्रीय वर्ल्ड कप प्रतियोगिता का बड़ा महत्व है जिसमें पूरे विश्व की टीमें इस में भाग लेंगी, जिसमें केवल 80 पैराग्लाइडिंग पायलट ही भाग लेंगे। पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी वर्ल्ड कप प्रतियोगिता में खिलाड़ी को किसी ऊंचे स्थान से पैराग्लाइडर से उड़ान भर के नीचे  ग्राउंड पर 0 से 1000 सेंटीमीटर के बीच में उतरना होता है जिससे एक्यूरेसी चैंपियनशिप कहा जाता है। प्रतियोगिता में चयन के बाद खिलाड़ियों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है, गिमनर सिंह ने बताया कि वर्ल्ड कप में खेलने के लिए उनकी सारी तैयारियां हो चुकी हैं, ट्रेनिंग कैंप के रूप में उन्होंने 15 दिवसीय कोचिंग शिविर भी संपन्न कर लिया है, आगामी कार्यवाही के लिए वह 6 तारीख को दिल्ली रवाना होंगे वहीं भारतीय खेमे की टीम दिल्ली में इकट्ठे होकर 8 तारीख को थाईलैंड देश रवाना हो जाएगी।  खिलाड़ी ने हिमाचल प्रदेश सरकार वह संस्थान का धन्यवाद क्या है,संस्थान के निदेशक अविनाश नेगी संयुक्त निदेशक  रमन घर संगी हिमाचल प्रदेश सरकार के प्रमुख संसदीय सचिव सुंदर ठाकुर ने टीम को बधाई व शुभकामनाएं दी, खिलाड़ी ने बताया कि सदर विधायक मुख्य संसदीय सचिव सुंदर ठाकुर के योगदान से यह संभव हो पाया है, पैराग्लाइडिंग ना केवल एक स्पोर्ट्स के रूप में अपितु हिमाचल प्रदेश में एडवेंचर टूरिज्म के रूप में भी लोगों के रोजगार से एक अहम योगदान रखता है।
गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में साहसिक स्पोर्ट्स की दृष्टि से 15 साइट्स पंजीकृत हैं व 1500 पैराग्लाइडर पास है, जिनमें कई हजार लोगों को रोजगार प्राप्त होता है। हिमाचल प्रदेश की इकोनामी में साहसिक गतिविधियों का बहुत बड़ा योगदान है जो रोजगार की दृष्टि एवं पर्यटन से लोगों को सशक्त बना रहा है। एरो क्लब ऑफ इंडिया व पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन ने भारतीय टीम के खिलाड़ियों गिमनर सिंह, सोनम व  अर्जुन राय को शुभकामनाएं दी।

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख