Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

वॉशिंगटन एप्पल पर 20 फ़ीसदी इंपोर्ट ड्यूटी घटाना प्रदेश के सेब बागवानों के विरुद्ध

      प्रधान मीडिया सलाहकार नरेश चौहान ने केंद्र सरकार के इस फैसले को सेब बागवान विरोधी बताया है

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

 प्रदेश में सेब सीजन शुरू होने को है इसी बीच अमेरिकी सेब की किस्म वॉशिंगटन एप्पल पर इंपोर्ट ड्यूटी कम होने की ख़बर ने प्रदेश में सियासत का बाजार गर्म कर दिया है. हिमाचल प्रदेश में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने केंद्र की भाजपा सरकार पर हिमाचल सहित देश के सेब उत्पादक राज्यों के लोगों को ठगने का आरोप लगाया है. मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के प्रधान मीडिया सलाहकार नरेश चौहान ने केंद्र सरकार के इस फैसले को सेब बागवान विरोधी बताया है. वहीं नरेश चौहान ने इस मुद्दे पर प्रदेश भाजपा के नेताओं से भी अपनी स्थिति स्पष्ट करने की बात कही है। 

मुख्यमंत्री के प्रधान मीडिया सलाहकार नरेश चौहान ने कहा कि प्रदेश के डेढ़ लाख परिवार सेब की अर्थव्यवस्था से जुड़े हैं. उन्होंने कहा कि लगभग 7 लाख लोग प्रदेश के अंदर सेब की अर्थव्यवस्था से सीधे तौर पर प्रभावित होते हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि बागवान से लेकर रेडी चलाने वाले तक हर कोई इसका हिस्सा है. नरेश चौहान ने प्रधानमंत्री मोदी को निशाने पर लेते हुए कहा कि पीएम मोदी ने सेब बागवानों से चुनावी वादे किए लेकिन अमेरिका दौरे पर जाकर सेब पर लगने वाली इंपोर्ट ड्यूटी को 20 फ़ीसदी कम कर दिया. उन्होंने ने कहा की बागवानों की ओर से 100 फ़ीसदी इंपोर्ट ड्यूटी की मांग की जाती रही है लेकिन केंद्र सरकार ने 70 फ़ीसदी ड्यूटी को घटाकर 50 फ़ीसदी कर दिया.  उन्होंने इस फैसले को प्रदेश के सेब बागवानों के विरुद्ध बताया!

नरेश चौहान ने इसके अलावा कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार बागवानों के साथ है. वहीं उन्होंने प्रदेश भाजपा नेताओं से भी इस मामले में अपनी स्थिति स्पष्ट करने की बात कही है. नरेश चौहान ने कहा कि प्रदेश के भाजपा नेता बताएं कि क्या वे प्रदेश के सेब बागवानों के साथ हैं या भाजपा की केंद्र सरकार के फैसले के साथ इस पर अपनी स्थिति स्पष्ट करें। 

Post a Comment

0 Comments

अन्नपूर्णा का सहयोग सम्मान समारोह 6 को