Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सो फीसदी नेत्रहीन अनिल महाजन के मामले का प्राथमिकता के आधार पर नगर निगम अवलोकन करे :- प्रवीन कुमार

पालमपुर, रिपोर्ट 

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सो फीसदी नेत्रहीन अनिल महाजन के मामले का प्राथमिकता के आधार पर नगर निगम अवलोकन करे उक्त शब्द पूर्व विधायक प्रवीण कुमार ने नगर निगम पालमपुर के अन्तर्गत वार्ड नम्बर तीन से सो फीसदी नेत्रहीन अनिल महाजन लाठी का सहारा लेकर पालमपुर के पूर्व विधायक प्रवीन कुमार से उनके आवास पर मिलने पर कहे । पूर्व विधायक को अपनी व्यथा वेदना व पीडा की विस्तृत जानकारी देते हुए अनिल महाजन ने कहा कि नेत्रहीनता के दृष्टि गत ही पूर्व सरकार ने चार मरले जमीन उन्हें आवास निर्माण के लिए स्वीकृत की है जिसका कि उनके नाम  इन्तकाल भी हो चुका है। 
अनिल महाजन ने अपनी प्राथमिकता पात्रता को लेकर जो सम्बधित विभाग , मुख्यमन्त्री व केन्द्रीय मन्त्री की सेवा में पत्राचार किया है उसकी नकल प्रतियां दिखाते हुए ओर उस एवज में केन्द्रीय मन्त्री श्री अनुराग ठाकुर जी के तसलीबक्श जवाब पर प्रसन्नता व नगर निगम आयुक्त के जवाब पर बेहद निराशा व्यक्त की । नेत्रहीन अनिल महाजन ने बताया कि उनसे किसी जिम्मेवार प्रतिनिधि ने कहा कि आपके मकान के पैसे मंजूर हो चुके हैं। इस सन्दर्भ में उन्होंने पहली किस्त के लिए आवेदन कर दिया । जिसका कि जिस सरल भाषा में  नगर निगम आयुक्त महोदय को जवाब देना चाहिए था वह बडा अजीव सा लगा । पत्र में आयुक्त महोदय ने लिखा है कि जव मकान ही स्वीकृत नहीं हुआ है तो किस्त काहे कि ऎसे में निकट भविष्य में जव केन्द्र सरकार इस योजना की फाईल मांगेगी तो यह मामला भी भेज दिया जाएगा । आयुक्त महोदय के इस जवाब पर पूर्व विधायक ने  कहा है कि अगर इस प्रकार के दृष्टि हीनो के लिए नगर नियम के कायदे एवं कानून में कोई प्राथमिकता नहीं है तो स्पेशल केस के तहत प्रोपर चैनल में इस मामले को   प्रधानमंत्री  की सेवा में प्रेषित किया जाए । पूर्व विधायक ने दावे ओर विशवास के साथ कहा कि जिस तरह प्रधानमंत्री  के मन में अपगों , वेसहारों व दिव्यागों के प्रति जगह है ऎसे में वह मानवीय एवं प्राथमिकता के आधार पर इस मामले को स्वीकृति प्रदान करेंगे ।

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख