Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

आयुष हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर में लग रही योग, पाठशाला ग्रामीणों के साथ साथ स्कूली विद्यार्थियों को सिखाया जा रहा प्राणायाम आयुष हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर में लग रही योग पाठशाला



ग्रामीणों के साथ साथ स्कूली विद्यार्थियों को सिखाया जा रहा प्राणायाम

आयुर्वेदिक चिकित्सक और योग प्रशिक्षक ले रहे क्लास


पधर(मंडी),सोनिका ठाकुर
मंडी जिला के सभी आयुष हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर में रोजाना सुबह योग की पाठशाला लग रही है। जहां बड़ी संख्या में लोग योगाभ्यास करने व इसकी बारीकियों को जानकर स्वास्थ्य लाभ लेने के लिए पहुंच रहे है। आयुष्मान भारत के अंतर्गत राष्ट्रीय आयुष मिशन  द्वारा आयुर्वेद औषधालयों को उन्नत कर आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में विकसित किया जा रहा है।
जिसके अंतर्गत आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र उरला में योग प्रशिक्षिका रूमा देवी द्वारा लोगों को योगाभ्यास करवाया जा रहा है। वहीं राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला उरला में स्कूली विद्यार्थियों को भी योग का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
स्वास्थ्य केंद्र उरला की प्रभारी डॉ. मंजुला शर्मा ने कहा कि योग को बढ़ावा देने और ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस बारे जागरूक करने के लिए घर घर गांव गांव में लोगों को जागरूक किया जा रहा है। स्वास्थ्य केंद्र में योग प्रशिक्षकों द्वारा आसन एवं प्राणायाम आदि अभ्यास बारीकी से सिखाई जा रहे हैं। उन्होंने स्थानीय लोगों से आह्वान किया कि योग प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होकर स्वस्थ जीवनशैली जीने के तरीके अपनाएं।
जिला उपनिदेशक डॉ. राजेश नरयाल ने कहा कि आयुर्वेदिक स्वास्थ्य उपमंडल जोगेंद्रनगर में वर्तमान में संचालित सभी आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों के साथ साथ अन्य स्वास्थ्य केंद्रों में रोजाना सुबह योग की पाठशाला लग रही है। जहां आयुर्वेद चिकित्सक एवं योग प्रशिक्षको द्वारा ग्रामीणों और विद्यार्थियों को योग से निरोग रहने के गुर सिखाए जा रहे हैं। 
उन्होंने कहा कि आयुष हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर की स्थापना का मुख्य उद्देश्य ही यह है कि योग और आयुर्वेद के माध्यम से स्वस्थ जीवन शैली का अधिकाधिक प्रचार प्रसार कर जन साधारण को स्वस्थ रखना है। जिसके तहत 'हर घर हर आंगन' योग विषय पर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस तक हर रोज योग गतिविधियां करवाई जा रही हैं। 


Post a Comment

0 Comments

दोनों तरफ की नालियों का पानी आरसीसी पाइप से सीर खड्ड तक पहुंचेगा