Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

चंडीगढ़ से मनाली जाने वाले पर्यटकों को अब मंडी-पंडोह के बीच सड़क बंद होने से नहीं होना पड़ेगा परेशान

     चैलचौक-पंडोह सड़क चंडीगढ़ मनाली जाने का बनेगी विकल्प, केंद्र को भेजी 39 करोड़ की डीपीआर

मंडी,रिपोर्ट संगीता मंडयाल 

चंडीगढ़ से मनाली जाने वाले पर्यटकों को अब मंडी-पंडोह के बीच सड़क बंद होने से परेशान नहीं होना पड़ेगा। लोक निर्माण विभाग ने चैलचौक-पंडोह सड़क को विकल्प मार्ग के रूप में तैयार करने की कवायद शुरू की है।  विभाग ने 39 करोड़ रुपये की डीपीआर केंद्र सरकार को भेज दी है। स्वीकृति मिलने के बाद इस सड़क का को चौड़ा करने का काम शुरू कर दिया जाएगा। 

आपदा के बीच यह सड़क बड़ा विकल्प बनकर सामने आई है। चैलचौक-पंडोह सड़क की लंबाई 30 किलोमीटर होगी। मंडी-पंडोह के बीच बार-बार एनएच बंद होने से हजारों पर्यटक, किसान और बागवान परेशान होते हैं।  अब चैलचौक-पंडोह सड़क मार्ग को विकल्प सड़क बनाने की तैयारी की जा रही है। उम्मीद लगाई जा रही है कि जल्द इस परियोजना की स्वीकृति मिलेगी।मंडी-कुल्लू एनएच के बार-बार बंद होने का विकल्प से पर्यटन को भी पंख लगेंगे। कुल्लू-मनाली घूमकर आने वाले पर्यटक अब सीधे ही पंडोह से सराज और कमरूनाग घाटी तक पहुंच पाएंगे और यहां के सौंदर्य का लुत्फ उठा पाएंगे। 

 सड़क चौड़ी होने के कारण पर्यटक भी आसानी से अनछुए पर्यटन स्थलों तक पहुंच पाएंगे। इससे स्थानीय लोगों की भी आर्थिकी सुदृढ़ होगी।  बता दें कि मंडी से कुल्लू एनएच के अलावा कटौला होकर वैकल्पिक मार्ग है। इसके अलावा पंडोह से चैलचौक होते हुए डडौर तक वाहन पहुंचते हैं। सड़क से शिमला, रामपुर, किन्नौर के लिए भी पर्यटक रवाना हो सकते हैं। वर्तमान में यह सड़क संकरी और घुमावदार है। चैलचौक-पंडोह इंटरमीडियट सड़क मार्ग की डीपीआर बनाकर सरकार को भेज दी है। स्वीकृति आने के बाद यहां काम शुरू होगा। -चमन ठाकुर, अधिशाषी अभियंता, लोक निर्माण विभाग।



Post a Comment

0 Comments

सात एचपीएस अधिकारियो को पुलिस अधीक्षक का रूप मे नियुक्ति