Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी पंचायत स्तर तक पहुंचाएं: रत्न

                            पंचायत घरों में स्कीमों से संबंधित बोर्ड लगाने के दिए निर्देश

धर्मशाला,रिपोर्ट नेहा धीमान 

समाज कल्याण विभाग के माध्यम से चलाई जा रही योजनाओं एवं कार्यक्रमों का पंचायत स्तर तक व्यापक प्रचार प्रसार सुनिश्चित किया जाए ताकि ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद एवं पात्र लोग योजनाओं का लाभ उठा सकें। यह उद्गार विधायक संजय रत्न ने धर्मशाला में डीसी कार्यालय के सभागार में जिला कल्याण समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक पंचायत में समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के बोर्ड लगवाना सुनिश्चित किया जाएगा इसके साथ ही विभिन्न स्तरों पर कल्याण विभाग के अधिकारी जागरूकता शिविर लगाना सुनिश्चित करेंगे। 

विधायक संजय रत्न ने कहा कि दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को बार-बार दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ें इस के लिए तहसील कल्याण अधिकारी विभिन्न क्षेत्रों में जाकर लोगों के आवेदन इत्यादि एकत्रित करने की व्यवस्था तैयार करें इस के लिए क्षेत्रवार विजिट का कलेंडर भी तैयार किया जाए इसकी जानकारी संबंधित क्षेत्रों में देना सुनिश्चित किया जाए ताकि लोगा निर्धारित शेड्यूल के तहत तहसील कल्याण अधिकारियों के साथ मिल सकें।

कांगड़ा जिला में गत छह माह में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत 7966 नए मामलों को मंजूरी प्रदान की गई जिसमें वृद्वावस्था पेंशन के तहत 6402, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्वावस्था पेंशन के तहत 193, इंदिरा गांधा राष्ट्रीय विधवा पेंशन के 113, विधवा पेंशन के 679, अपंग राहत भत्ता के तहत 572, कुष्ठ रोग पुर्नवास भत्ता के सात मामलों को मंजूरी दी गई है कांगड़ा जिला में अब सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत एक लाख 66 हजार 84 पात्र लोग लाभांवित होंगे।जिला स्तरीय समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष, विधायक संजय रत्न ने कहा कि अस्सी वर्ष से अधिक आयु वर्ग के वृद्वजनों को घर द्वार पर पेंशन देने का प्रावधान किया जाए। उन्होंने कहा कि वृद्वजन पोस्ट आफिस या बैंक तक पहुंचने में असमर्थ होते हैं इसलिए उनकी सुविधा को ध्यान में रखते हुए सामाजिक सुरक्षा पेंशन घर तक पहुंचाने के लिए विभागीय अधिकारियों को उचित व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

जिला स्तरीय समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष संजय रत्न ने बताया कि कांगड़ा जिला में चालू वित वर्ष में स्वर्ण जयंती आश्रय योजना के तहत अनुसूचित जाति, जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के 324 पात्र लोगों को गृह निर्माण के लिए अनुदान दिया जाएगा जिसमें अनुसूचित जाति के 211 लोगों को गृह निर्माण के लिए तीन करोड़ 16 लाख, 50 हजार रूपये का अनुदान, अनुसूचित जनजाति के 22 लोगों को गृह निर्माण के लिए 33 लाख रूपये, अन्य पिछड़ा वर्ग के 91 लोगों को एक करोड़ 36 लाख 50 हजार का अनुदान दिया जाएगा।

विधायक संजय रत्न ने बताया कि समाज कल्याण विभाग के तहत अक्षम छात्र-छात्राओं के लिए छात्रवृति प्रदान की जाएगी इस के लिए 25 लाख का बजट कांगड़ा जिला के लिए आवंटित हुआ है। उन्होंने बताया कि पहली से पांचवीं तक अक्षम बच्चों के लिए 625 रूपये प्रतिमाह, आवासीय छात्रों के लिए 1875, छठी से आठवीं तक के अक्षम बच्चों के लिए 750 तथा आवासीय छात्रों के लिए 1875, नवीं से दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए 950 तथा आवासीय छात्रों के लिए 1875 प्रतिमाह इसी तरह से दस जमा एक तथा जमा दो के छात्रों के लिए 1250 तथा आवासीय छात्रों के लिए 2500 रूपये प्रतिमाह, स्नातक के छात्रों के लिए 1875 तथा आवासीय छात्रों के लिए 3750, स्नातकोत्तर के छात्रों के लिए 2250 तथा आवासीय छात्रों के लिए 3750 प्रतिमाह, बीई, बीटेक तथा एमबीबीएस के छात्रों के लिए 3750 तथा आवासीय छात्रों के लिए 5000 रूपये प्रतिमाह छात्रवृति प्रदान की जाएगी। विधायक संजय रत्न ने कहा कि कांगड़ा जिला में कोई भी अक्षम छात्र-छात्राएं छात्रवृति से वंचित नहीं रहें इस के लिए समाज कल्याण विभाग तथा शिक्षा विभाग आपसी समन्वय के साथ कार्य करें।


Post a Comment

0 Comments

बिलासपुर में हादसा, खाई में गिरी कार