Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

पर्यटन तथा साहसिक खेलों को दिया जाएगा बढ़ावा: संजय रत्न

                                     हिरण में 25 लाख की लागत से किया पैराग्लाइडिंग साइट का शुभारंभ  

धर्मशाला,रिपोर्ट नेहा धीमान 

ज्वालामुखी क्षेत्र को पर्यटन तथा साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए कारगर कदम उठाए जा रहे हैं इस के लिए विस्तृत कार्य योजना तैयार करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए गए हैं।शुक्रवार को ज्वालामुखी की हिरण पंचायत में 25 लागत की से निर्मित पैराग्लाइडिंग साइट का शुभारंभ करने के उपरांत विधायक संजय रत्न ने कहा कि ज्वालामुखी विस क्षेत्र में पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं यहां शक्तिपीठ ज्वालामुखी मंदिर में प्रतिवर्ष लाखों श्रद्वालु माथा टेकने के लिए आते हैं जिसके चलते ही ज्वालामुखी विधानसभा के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यटन को बढ़ावा मिल सकता है इस के लिए विभिन्न स्तरों पर टूरिज्म साइट्स विकसित की जाएंगी ताकि स्थानीय लोगों को स्वरोजगार के अवसर भी मिल सकें।

उन्होंने कहा कि ज्वालामुखी विस क्षेत्र के साथ ही नादौन में ब्यास नदी में रिवर राफ्टिंग की साइट्स विकसित की गई है इससे भी साहसिक खेलों को बढ़ावा मिलेगा। विधायक संजय रत्न ने कहा कि हिरण पंचायत में पैराग्लाइडिंग आरंभ होने से यहां के लोगों को स्वरोजगार के अवसर भी मिलेंगे। विधायक संजय रत्न ने कहा कि वर्तमान सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में सड़क, स्वास्थ्य तथा शिक्षा की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए कृत संकल्प है तथा इसी दिशा में ग्रामीण क्षेत्रों में आधारभूत संरचना को भी सुदृढ़ किया जा रहा है ताकि लोगों को बेहतर सुविधाएं मिल सकें।

उन्होंने कहा कि ज्वालामुखी के लुथान क्षेत्र में सुखाश्रय परिसर निर्मित करने के लिए भी जगह चिह्न्ति की गई है इसमें निराश्रित बच्चों की देखभाल के लिए बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। विधायक संजय रत्न ने कहा कि विकास कार्यों के लिए किसी भी स्तर पर धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी इसके उपरांत विधायक संजय रत्न ने 21 लाख से निर्मित होने वाले अंब-डौली-गुज्जर संपर्क मार्ग तथा 69 लाख से निर्मित होने वाले शिव मंदिर से गुज्जर संपर्क मार्ग, 29 लाख की लागत से में निर्मित होने वाले चाचे दी हट्टी से कबीर पंथी बस्ती संपर्क मार्ग का भूमि पूजन भी किया।





Post a Comment

0 Comments

आदित्य राणा सपैडू व काजल कपूर पट्टी ( चन्दरोपा ) ने किया पालमपुर का नाम रोशन