Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

प्रदेश में इस समय विभिन्न फसलों की बिजाई का दौर चल रहा है

                                          हिमाचल के लिए जल्द आएगी 2400 टन खाद की नई खेप

ऊना,रिपोर्ट अविनाश चौहान 

प्रदेश में इस समय विभिन्न फसलों की बिजाई का दौर चल रहा है। फसलों की बिजाई में 12-32-12 खाद की आवश्यकता रहती है। इसे ध्यान में रखते हुए इफको से 2400 टन खाद की खेप मंगवाई है। यूरिया के बाद अब हिमाचल प्रदेश के लिए जल्द 12-32-12 खाद और डीएपी की नई खेप आएगी। यह खेप दो दिन के भीतर यानी सोमवार को प्रदेश के विभिन्न हिस्सों को भेजी जाएगी। इससे प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों के साथ पहाड़ी इलाकों में भी खाद का संकट टलेगा। जानकारी के अनुसार प्रदेश में इस समय विभिन्न फसलों की बिजाई का दौर चल रहा है।

फसलों की बिजाई में 12-32-12 खाद की आवश्यकता रहती है। इसे ध्यान में रखते हुए इफको से 2400 टन खाद की खेप मंगवाई है। इसमें 200 टन डीएपी होगी और 2200 टन 12-32-12 खाद रहेगी। इस खाद को किस जिले में किस मात्रा में सप्लाई किया जाना है, इसको लेकर निर्णय होना बाकी है। बताया जा रहा है कि खाद की खेप मालगाड़ी से चंडीगढ़ पहुंचेगी और वहां से विभिन्न जिलों में उसका वितरण किया जाएगा।ध्यान रहे कि ऊना में इस समय आलू सहित हरी सब्जियों की बिजाई का दौर चल रहा है। डेढ़ माह बाद प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में गेहूं की बिजाई भी शुरू होगी। इफको ने इसके लिए अभी से प्रबंध कर लिया है।

 इससे पहले प्रदेश में यूरिया खाद की खेप भी वितरित हुई है।प्रदेश में इफको की ओर से दानेदार खाद के साथ तरल खाद का इस्तेमाल करने पर जोर दिया जा रहा है। किसानों के लिए लगातार जागरुकता शिविर लगाए जा रहे हैं, जिसमें उन्हें फसलों पर नैनो यूरिया व डीएपी का छिड़काव करने की सलाह दी जा रही। तरल खाद का इस्तेमाल अधिक बढ़ाने के लिए दानेदार खाद की आपूर्ति को भी 30 प्रतिशत तक कम किया जा रहा है।प्रदेश के लिए 12-32-12 खाद और डीएपी की नई खेप जल्द आ रही है। इसके लिए तैयारी पूरी कर ली गई है। सभी जिलों में खाद वितरण को लेकर योजना तैयार की जाएगी। इसके बाद मौसम को ध्यान में रखते हुए गाड़ियों को सभी जिलों के लिए रवाना किया जाएगा।





Post a Comment

0 Comments

रोटरी क्लब के सहयोग से कृषि विश्वविद्यालय में रक्तदान शिविर का आयोजन