Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मुख्यमंत्री ने राज्य स्तरीय मैराथन (रेड रन) का शुभारम्भ किया

 मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में मैराथन के सभी प्रतिभागियों को हार्दिक बधाई दी तथा एड्स से बचाव के लिए सही जानकारी की महता पर बल दिया

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने एड्स के बारे समाज को जागरूक करने के लिए शिमला के आज रिज से राज्य स्तरीय मैराथन (रेड रन) का शुभारंभ किया। इस मैराथन में प्रदेश के सात जिलों से विभिन्न श्रेणियों के 66 युवाओं ने भाग लिया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर आयोजित रक्तदान शिविर का शुभारंभ भी किया।मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में मैराथन के सभी प्रतिभागियों को हार्दिक बधाई दी तथा एड्स से बचाव के लिए सही जानकारी की महता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि समाज में एड्स के संदर्भ में महत्त्वपूर्ण बदलाव आए हैं। एक समय में एड्स के विषय पर चर्चा करने में लोग शर्म महसूस करते थे लेकिन वर्तमान में इस विषय पर सघन विचार-विमर्श किया जाता है।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में 5,300 एड्स रोगी हैं तथा राज्य सरकार इन्हें निःशुल्क उपचार तथा सहयोग प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रदेश सरकार ने युवाओं को एड्स संबंधी जानकारी प्रदान करने के लिए 1097 हेल्पलाइन स्थापित की है। इसके अतिरिक्त प्रदेश में दो समर्पित आईटीसी वाहनों सहित 55 एकीकृत परीक्षण तथा परामर्श केन्द्रों के माध्यम से निःशुल्क परीक्षण व परामर्श सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने समाज को एड्स के बारे में जागरूक बनाने के लिए सोशल मीडिया की भूमिका पर बल दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन लोगों की स्वास्थ्य संबंधी आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए नीतियां तथा योजनाएं तैयार की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में मानसून के दौरान भारी जान व माल का नुकसान हुआ है, जिससे उबरने में समय लगेगा। प्रदेश सरकार प्रभावित परिवारांे को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है, जिसके तहत आपदा राहत कार्यों के लिए 4500 करोड़ रुपये का विशेष पैकेज आवंटित किया गया है।स्वास्थ्य मंत्री डॉ. (कर्नल) धनीराम शांडिल ने इस अवसर पर एड्स से संबंधित भ्रम और भ्रांतियों को दूर करने में युवाओं की अहम भूमिका पर बल दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार एड्स रोगियों को हरसंभव सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है, जिनमें निःशुल्क परीक्षण तथा उपचार भी शामिल है।इस अवसर पर एड्स आधारित लघु नाटिका भी प्रस्तुत की गई।





Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी