Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

शाहपुर का सेवक बनकर करूंगा जनता के कार्य: केवल पठानिया

 शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में महत्वपूर्ण विकासात्मक कार्यों के साथ-साथ लोगों को घर द्वार पर मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकार कार्य कर रही है

धर्मशाला,रिपोर्ट नेहा धीमान 

शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में महत्वपूर्ण विकासात्मक कार्यों के साथ-साथ लोगों को घर द्वार पर मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकार कार्य कर रही है। विधानसभा क्षेत्र शाहपुर की पंचायत ठारु के गाँव टुंडु में जनता को संबोधित करते हुए स्थानीय विधायक केवल सिंह पठानिया ने यह बात कही। विधायक बनने के पश्चात पहली दफा ठारु पहुंचने पर लोगों ने केवल सिंह पठानिया का बेहद गर्मजोशी से स्वागत किया। केवल सिंह पठानिया ने अप्रतिम विजय के लिए स्थानीय लोगों का अभिवादन करते हुए अपनी कृतज्ञता ज्ञापित की।

उन्होंने कहा कि शाहपुर की जनता ने अपने सेवक को चुनकर विधानसभा भेजा है और एक निष्ठावान सेवक के रूप में वे दिन-रात क्षेत्र की भलाई और कल्याण के लिए कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने इस दौरान टुंडु गांव की जनता की मांगों पर मोहर लगाकर उन्हें पूरा करने की बात कही। उन्होंने कहा कि ललेटा ओर टुंडु के गाँवो के लिए सड़क के साथ दो पुल बना कर इन्हें जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि ललेटा - बनु महादेव सड़क को भी जल्द बनाया जाएगा।

केवल पठानिया ने टूण्डु में एक बड़ा सामुदायिक भवन बनाने की बात कही। उन्होंने कहा कि यहां युवाओं के जिम खोला जाएगा तथा मट्ट में एक मोक्ष धाम बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि टुंडु में पानी की समस्या को दूर करने के लिए ओवरहेड टैंक बनाया जाएगा तथा यहां जल की समस्या को दूर करने के लिये पानी की स्कीम को ठीक किया जाएगा व हैंडपंप स्थापित किया जाएगा। उन्होंने एकता महिला मंडल के लिए 21000 देने की बात कही। उन्होंने कहा कि स्थानीय जनता की मांग पर राजकीय पाठशाला ठाठरु का नाम बदल कर ठारू किया जाएगा। उन्होंने विद्युत बोर्ड के कर्मचारियों को बिजली की समस्या को दूर करने के निर्देश देते हुए बिजली की लाइनों की मरम्मत करने की बात कही।विधायक पठानिया ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि आज केंद्र की जन विरोधी नीतियों से जनता तंग आ चुकी है। उन्होंने कहा कि पूर्व की केंद्र की कांग्रेस सरकार ने गांव की जनता को रोजगार उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से मनरेगा की शुरुआत की थी। लेकिन आज की केंद्र सरकार ने मनरेगा में बजट कटौती करके उसे अपंग बना दिया है।




Post a Comment

0 Comments

काले कपड़े पहन फीस वृद्धि के खिलाफ अभाविप का अनोखा प्रदर्शन