Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

संविधान दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने डॉ. अम्बेडकर की प्रतिमा पर पुष्पाजंलि की अर्पित

आगामी वर्ष से कार्यक्रम राजकीय समारोह के रूप में मनाया जाएगा: मुख्यमंत्री

शिमला, रिपोर्ट 
मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने संविधान दिवस के अवसर पर शिमला स्थित, चौड़ा मैदान में भारत रत्न डॉ. भीम राव अम्बेडकर की प्रतिमा पर प्रदेशवासियों की ओर से पुष्पाजंलि अर्पित की।
इस अवसर पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. (कर्नल) धनी राम शांडिल, मुख्य संसदीय सचिव संजय अवस्थी, मुख्यमंत्री के प्रधान सलाहकार (मीडिया) नरेश चौहान, विधायक हरीश जनारथा व रवि ठाकुर, नगर निगम शिमला के महापौर सुरेन्द्र चौहान, उप-महापौर उमा कौशल, मुख्यमंत्री के ओएसडी रितेश कपरेट, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गंगूराम मुसाफिर, राष्ट्रीय  बचत राज्य सलाहकार बोर्ड के उपाध्यक्ष प्रकाश चंद करड़, नगर निगम शिमला के पार्षदगण और अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने भी पुष्पाजंलि अर्पित की।


इस मौके पर कांग्रेस पार्टी अनुसूचित जाति विभाग व डॉ. भीम राव अम्बेडकर वेल्फेयर सोसायटी द्वारा आयोजित कार्यक्रम में संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि आगामी वर्ष से संविधान दिवस के अवसर पर यह कार्यक्रम राजकीय समारोह के रूप में आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि डॉ. भीम राव अम्बेडकर समाज सुधारक और प्रख्यात विद्वान थे। उनके आदर्श सभी के लिए प्रेरणा स्त्रोत हैं। शिक्षा और समाज की प्रगति के लिए वे सदैव प्रयत्नशील रहे।

मुख्यमंत्री ने मीडिया प्रतिनिधियों से अनौपचारिक बातचीत के दौरान कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रदेश सरकार आगामी शैक्षणिक सत्र से शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक सुधार करने जा रही है और प्रदेश के स्कूलों में पहली कक्षा से अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा प्रदान करने का भी निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षकों की कमी को दूर करने के लिए शीघ्र ही गेस्ट फेकल्टी टीचर्ज़ पॉलिसी लेकर आ रही है। इसके तहत अस्थायी तौर पर मेधावी गेस्ट लेक्चरर्ज़ की सेवाएं ली जाएंगी।

मुख्यमंत्री ने समारोह में उपस्थित  लोगों को संविधान के प्रति निष्ठा की शपथ भी दिलाई।
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. (कर्नल) धनी राम शांडिल ने कहा कि डॉ. भीम राव अंबेडकर सभी के लिए प्रेरणा स्त्रोत हैं। संवैधानिक मूल्यों के प्रति नागरिकों में सम्मान की भावना को बढ़ावा देने के लिए संविधान दिवस आयोजित किया जाता है। हमारे संविधान ने नागरिकों को गरिमा और एकता का संदेश दिया है।

इससे पूर्व, कांग्रेस पार्टी के अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष अमित नंदा ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया और कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी।
समारोह में सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने देशभक्ति पर आधारित गीतों की प्रस्तुति दी।
कार्यक्रम में विभिन्न संस्थाओं व संगठनों के प्रतिनिधियों, गणमान्य व्यक्तियों और आम लोगों ने भाग लिया।

Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी