Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

एनआईटी के निदेशक प्रो. एचएम सूर्यवंशी ने छात्रों को निष्कासित करने की पुष्टि की है

                                        एनआईटी में बीटेक के दो और छात्र एक साल के लिए निष्कासित

हमीरपुर,ब्यूरो रिपोर्ट 

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) हमीरपुर ने वीरवार को बीटेक पांचवें वर्ष में अध्ययनरत वणित वर्मा और वरुण शर्मा को एक साल के लिए अकादमिक सत्र और छात्रावास से निष्कासित कर दिया। दोनों 23 अक्तूबर को एनआईटी के छात्रावास में मृत मिले एमटेक प्रथम वर्ष के छात्र सूजल शर्मा की मौत और एनडीपीएस एक्ट मामले में नामजद रहे हैं।

दोनों लंबे समय तक पुलिस और न्यायिक हिरासत में भी रहे हैं। गत दिवस 50-50 हजार के मुचलके पर जिला सत्र न्यायालय से दोनों को जमानत पर रिहा किया था। रिहा होने के बाद जब दोनों एनआईटी परिसर में पहुंचे तो इन्हें बोर्ड ऑफ डिसिप्लिन (बोओडी) के समक्ष पक्ष रखने के निर्देश दिए।बोओडी इनके जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ। बीओडी ने दोनों के खिलाफ छात्र की मौत के मामले में पुलिस थाना हमीरपुर में दर्ज गैर इरादतन हत्या केस और एनडीपीएस एक्ट केस को गंभीर अपराध की श्रेणी में माना है। बीओडी ने फैसले की रिपोर्ट संस्थान के निदेशक को सौंपी। निदेशक मंडल ने वीरवार को दोनों को एक साल के लिए निष्कासित कर दिया है।निदेशक प्रो. एचएम सूर्यवंशी ने छात्रों को निष्कासित करने की पुष्टि की है। इससे पहले एनआईटी ने चरस के साथ गिरफ्तार बीटेक के सुशील मिश्रा और ओमर जमान को एक साल के लिए निष्कासित किया था।




Post a Comment

0 Comments

बिलासपुर में हादसा, खाई में गिरी कार