Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

राजकीय अध्यापक शिक्षा महाविद्यालय धर्मशाला के समीप मुख्य चौक को ही चालकों ने पार्किंग बना डाला है

                                               धर्मशाला बीएड कॉलेज चौक को ही बना दिया पार्किंग

काँगड़ा,रिपोर्ट नेहा धीमान 

राजकीय अध्यापक शिक्षा महाविद्यालय धर्मशाला के समीप मुख्य चौक को ही चालकों ने पार्किंग बना डाला है। यहां ट्रैफिक को सुचारु रखने के लिए पुलिसकर्मी तो तैनात रहते हैं लेकिन सड़क किनारे खड़े वाहनों को नहीं हटवाया जाता है। शिक्षण संस्थानों के समीप उचित पार्किंग व्यवस्था न होने के कारण वहां यातायात समस्या देखने को मिल रही है।

वर्तमान में यह बीएड कॉलेज का चौक हादसों का चौराहा बनता जा रहा है। चौराहे के आसपास की सड़कों में गाड़ियां खड़ी रहती हैं। इससे विद्यार्थियों समेत अन्य राहगीरों को भी आवाजाही करने में परेशानी होती है। इस क्षेत्र में क्रिकेट स्टेडियम, सिंथेटिक ट्रैक, साईं हास्टल, हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय का उत्तरी कैंपस, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बाल धर्मशाला, डीएलएड समेत अन्य संस्थान हैं। इसके चलते जिला प्रशासन और पुलिस विभाग को संज्ञान लेते हुए तुरंत प्रभाव से यहां इस मार्ग को पार्किंग बनने से रोकना चाहिए। एचपीसीए क्रिकेट स्टेडियम के मुख्य प्रवेश द्वार में काम चलने के कारण पर्यटकों को प्रवेश द्वार नंबर दो से स्टेडियम के भीतर प्रवेश करना पड़ रहा है।

केंद्रीय विश्वविद्यालय के छात्र गौरव सेठी ने कहा कि स्टेडियम के समीप सड़क किनारे गाड़ियां खड़ी रहती हैं, जिस कारण उन्हें मुश्किलों का सामन करना पड़ रहा है। इससे हादसों का खतरा बढ़ा रहा है।छात्रा सलोनी का कहना है कि स्टेडियम के पास चौराहे पर दोनों तरफ पार्किंग बन चुकी है, जिससे इस मार्ग से गुजरने वाले वाहनों को जाम और हॉर्नों की वजह से परेशान होना पड़ता है।आकांक्षा कपूर का कहना है कि पर्यटकों को तो परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, साथ ही विद्यार्थियों और अध्यापकों को भी परेशानी हो रही है। सड़क किनारे गाड़ियां खड़ी होने से हादसों का खतरा रहता है।अभिषेक चावला का कहना है कि जहां वाहन खड़े होते हैं, उस मार्ग पर कॉलेज, यूनिवर्सिटी, बीएड, बाॅय स्कूल आदि शिक्षण संस्थान भी है जिसके कारण बच्चों, अध्यापकों एवं कर्मचारी इसी मार्ग से गुजरते हैं।



 

Post a Comment

0 Comments

अन्नपूर्णा का सहयोग सम्मान समारोह 6 को