Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जिला प्रशासन ने गगल एयरपोर्ट विस्तारीकरण के लिए पुनर्वास और पुन:स्थापन के लिए एक योजना बनाई है

                 19 सरकारी संस्थान भी उजड़ेंगे, झिकली इच्छी पंचायत में सबसे ज्यादा आठ संस्थान जद में

काँगड़ा,रिपोर्ट नेहा धीमा 

गगल एयरपोर्ट के प्रस्तावित विस्तारीकरण के कारण झिकली इच्छी ग्राम पंचायत से सबसे अधिक आठ सरकारी संस्थान जद में आएंगे। इसके अलावा कठुमा, गगल, सनौरा और रछियालु पंचायत से भी सरकारी संस्थानों का अस्तित्व खत्म होगा। एयरपोर्ट विस्तार की जद में आने वाले इन संस्थानों को लेकर मंगलवार को जिला प्रशासन ने एयरपोर्ट प्रभावित पंचायतों के प्रधानों के साथ पुनर्वास और पुनःस्थापन (आरएंडआर) प्लान को लेकर बैठक की।

जिला प्रशासन ने गगल एयरपोर्ट विस्तारीकरण के लिए पुनर्वास और पुन:स्थापन के लिए एक योजना बनाई है। इस योजना को जिला प्रशासन ने मंगलवार को एयरपोर्ट की जद में आने वाली पंचायतों के प्रधानों के साथ साझा किया। जिला प्रशासन की ओर से जारी आरएंडआर प्लान में झिकली इच्छी पंचायत से सबसे अधिक आठ सरकारी संस्थान एयरपोर्ट विस्तार की जद में आएंगे।इस दौरान पंचायत भवन, किसान भवन, पीएचसी, प्राइमरी और सीनियर सेकेंडरी स्कूल, इच्छी कोआपरेटिव मार्केटिंग एंड कंज्यूमर सोसायटी, अमित मेमोरियल क्लब और गुरु रविदास भवन शामिल हैं। वहीं दूसरी ओर कठुआ पंचायत से महिला मंडल भवन, स्कूल, मछली का तालाब, पशु औषधालय, पीडब्ल्यूडी स्टोर और पटवार घर शामिल हैं।

इसके अलावा गगल पंचायत से पटवार घर, स्कूल, आंगनबाड़ी केंद्र-2, पुलिस स्टेशन और आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी शामिल हैं, जबकि रछियालु पंचायत से दो कुंए और सनौरा पंचायत से सीनियर सेकेंडरी स्कूल एयरपोर्ट विस्तार की जद में आएगा। वहीं गगल पंचायत की प्रधान रेणु पठानिया ने बताया कि मंगलवार को जिला प्रशासन के साथ बैठक हुई है। बैठक में आरएंडआर प्लान को साझा किया गया है। एडीएम कांगड़ा रोहित राठौर का कहना है कि पंचायत प्रधानों से बैठक की गई है।




Post a Comment

0 Comments

सतलुज दरिया के तेज बहाव में एक बच्ची हुई दुर्घटना की शिकार