Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मध्य और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में छह दिनों तक मौसम साफ

                                                                  मैदानी जिलों में छाया घना कोहरा

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

हिमाचल प्रदेश के कई जिलों में शुष्क ठंड जारी है। न्यूनतम तापमान में कमी दर्ज होने से कांगड़ा, शिमला, मंडी, कुल्लू, चंबा, किन्नौर और लाहौल-स्पीति के कई क्षेत्रों में सुबह और शाम के समय मौसम में ठंडक बढ़ गई है। कुकुमसेरी में न्यूनतम पारा माइनस 11.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है।  बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा, ऊना सहित सोलन, सिरमौर और मंडी के कई क्षेत्रों में शनिवार सुबह के समय घना कोहरा छाया रहा। कई क्षेत्रों में दृश्यता 200 मीटर से कम रही। हमीरपुर जिले में ठंड का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। कोहरे और धुंध की वजह से लोग घरों में दुबकने को मजबूर हो गए हैं। मुख्यालय में शनिवार को 10:00 बजे तक घना कोहरा नजर आया। 

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार राज्य में आगामी छह दिनों तक मौसम साफ रहने के आसार हैं। विभाग के अनुसार प्रदेश के मध्य व उच्च पर्वतीय सभी भागों में 25 जनवरी तक मौसम साफ बना रहने की संभावना है। वहीं, मैदानी जिलों के कुछ भागों में दो दिनों तक घना कोहरा छाए रहने का  येलो अलर्ट जारी हुआ है। 22 जनवरी तक बिलासपुर, ऊना, मंडी, कांगड़ा (नूरपुर), सिरमौर (पांवटा साहिब व धौलाकुआं) और सोलन (बद्दी) और नालागढ़) के अलग-अलग हिस्सों में सुबह के समय घना कोहरा छाए रहने की संभावना है। वाहन चालकों को सावधानी से यात्रा करने की सलाह दी गई है।  

ऊना जिले में घने कोहरे व ठंड के चलते सभी सरकारी व निजी विद्यालयों के खुलने का समय सुबह 9:00 के बजाय अब 10:00 बजे कर दिया गया है। वहीं, पहले की तरह स्कूलों के बंद होने का समय दोपहर 3:00 बजे ही रहेगा। वहीं कक्षाओं के लिए आधा घंटा कम हुए समय की पूर्ति प्रार्थना सभा और आधी छुट्टी के समय को कम कर की जाएगी। स्कूलों के लिए जिला प्रशासन के यह आदेश 31 जनवरी तक लागू रहेंगे।  जिला में करीब दो सप्ताह पहले प्राथमिक स्कूलों के खुलने का समय सुबह 10:00 बजे किया गया था। उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने बताया कि जिला में निरंतर पड़ रही अत्यधिक ठंड के कारण स्कूली बच्चों की स्वास्थ्य संबंधी सुरक्षा को देखते हुए प्रशासन ने उप निदेशक उच्च शिक्षा की सिफारिश के बाद यह निर्णय लिया है। राघव शर्मा ने बताया कि कम किए गए समय की क्षतिपूर्ति प्रार्थना सभा तथा भोजनावकाश के समय को समाप्त कर पूरी की जाएगी। यह आदेश जिला के समस्त विद्यालयों में 22 से 31 जनवरी 2024 तक लागू रहेंगे।



Post a Comment

0 Comments

ट्रक चला रहे व्य​क्ति के साथ अचानक घटी यह घटना