Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

छात्रावास के खिलाड़ियों को एड्स से बचाव के बताए तरीके

                                         स्वास्थ्य विभाग ने जागरूकता कार्यक्रम का किया आयोजन

बिलासपुर,ब्यूरो रिपोर्ट 

स्वास्थ्य, परिवार कल्याण विभाग की ओर से खेल छात्रावास बिलासपुर में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान स्वास्थ्य शिक्षक दीप कुमार ने खिलाड़ियों काे एड्सस्से बचाव के तरीके बताए।कार्यक्रम में चित्रकला, नारा लेखन, रंगोली, प्रश्नोत्तरी और नुक्कड़ नाटक जैसी गतिविधियों का आयोजन किया गया। दीप कुमार ने खिलाड़ियों को बताया कि एचआईवी एड्स जानलेवा बीमारी है।

 इसका अब तक कोई इलाज नहीं है। एचआईवी से संक्रमित होने वाला व्यक्ति जीवन भर के लिए इस वायरस से ग्रसित हो जाता है। एचआईवी उस वायरस या विषाणु को कहते हैं जो इंसानों के अंदर बीमारी से बचने वाली ताकत को कम कर देता है और एड्स उस हालत को कहते हैं जिसमें बीमारियों से लड़ने की ताकत बिल्कुल कम या खत्म हो जाती है।

उन्होंने कहा कि संक्रमित व्यक्ति को कई बीमारियां पकड़ लेती हैं। यह मुख्यत: चार कारणों से फैलता है। इसमें असुरक्षित यौन संबंध, एचआईवी संक्रमित खून चढ़ाना, बिना उबली सिरिंज प्रयोग, पॉजिटिव माता से उसके बच्चे को हो सकता है। वर्तमान में ड्रग्स भी एचआईवी का कारण है। जो ड्रग्स इंजेक्शन से लेते हैं उन्हें एचआईवी होने का अधिक आशंका होती है। संक्रमित रोगियों को एआरटी दवाई देकर उनके जीवन को सुगम किया जा रहा है। स्वास्थ्य शिक्षक ने बताया कि इस रोग से अपने आप को और समाज के लोगों को भी जागरूक करें। कार्यक्रम की अध्यक्षता छात्रावास के प्रभारी मनोज ने की।





Post a Comment

0 Comments

ट्रक चला रहे व्य​क्ति के साथ अचानक घटी यह घटना